ॐ आखिर क्या है | ॐ मेडिटेशन | About Om Meditation in Hindi

About Om Meditation in Hindi

ॐ मेडिटेशन | Om Meditation : भारत में ॐ ध्वनि का महत्व सदियों से ही रहा है। दोस्तों आज आपको ॐ ध्वनि के उच्चारण से हुए लाभों के बारे में बताना चाहूंगी।


ॐ आखिर क्या है ? | About Om Meditation in Hindi

ॐ अर्थात मेडिटेशन । मतलब परमात्मा का ध्यान करना ।
मेडिटेशन ही एक ब्रह्मस्त्र है जिसके द्वारा विभिन्न समस्याओं एवं कोरोना महामारी पर भी विजय प्राप्त की जा सकती है।

🌼🍀🌼ॐ परमात्मा का निज नाम है । वेद और सत्यशास्त्रो में ओम की बहुत महिमा गाई हुई है। ओम नाम के चिंतन को सर्वोत्तम माना गया है। (देवकी दीदी ओम मंडली संचालिका रायपुर छत्तीसगढ़ ) ।
ॐ शब्द (ओ +म) से बना है। ओ माना ओ पिता , म माना मैं आत्मा। यानी मैं और मेरे पिता ।
सालों से ऋषि-मुनि जप और तप करते और ॐ ध्वनि का उच्चारण कर प्रभु को प्रसन्न कर वरदान प्राप्त करते। अर्थात ॐ की ध्वनि इतनी पावरफुल है कि इसके उच्चारण से वरदान प्राप्त हो जाता था । आज के इस दौड़ती-भागती जिंदगी में हमें योग (मेडिटेशन) करना चाहिए ताकि जिन्दगी में आने वाली समस्याओं से मुक्त हो सकते हैं। साथ ही हमारी देवनागरी लिपि में भी ॐ शब्द का अत्यधिक महत्व है।
ॐ को किसी एक धर्म से नहीं जोड़ा जा सकता है क्योंकि आजकल के समय में जब लोग अलग-अलग धर्मों में बंट गए हैं तब भी एक ॐ ही है जो धर्मों से परे है।

 

ॐ ध्वनि करने की विधि-

1- आलथी-पालथी में बैठे, आंख बंद करे , दोनों हाथों में ज्ञान मुद्रा बनाए , कमर सीधी हो और फिर गहरा लंबा श्वास लें और छोड़ें।
2- फिर गहरा लंबा श्वास लें और ॐ ध्वनि उच्चारण करें और फिर श्वास छोड़ें।
3- ॐ ध्वनि करते वक्त संकल्प करें कि मैं एक शांत स्वरूप आत्मा हूं और यह मेरा शरीर है।
4- ॐ ध्वनि ज़ोर- ज़ोर से न बोलें।
5- जब ॐ ध्वनि का उच्चारण करें तब संकल्प चलाएं कि परमात्मा मेरे पास आकर मुझे पावरफुल शक्तिया दे रहा है और मैं आत्मा उस पावरफुल शक्ति को लेती जा रही हूं। फिर ॐ ध्वनि करें संकल्प करें कि वो शक्तियां जो परमात्मा ने मुझे दी है वो मुझ आत्मा से निकल कर पूरे विश्व में जा रही है। ॐ ध्वनि करते वक्त मेरे अंदर से सारी नेगेटिविटी निकल रही है।
6- हमें दिन में 15 मिनट ॐ ध्वनि ज़रूर करनी चाहिए। सुबह उठते ही 5 मिनट और रात सोते समय 5 मिनट ॐ ध्वनि करें।
ॐ की ध्वनि निरन्तर करने से असाध्य से असाध्य रोग ठीक होते हैं।


🕉 ओम ध्वनि के फायदे 🕉️

🍃ओम हमारे जीवन को स्वस्थ बनाता है ।

🍃नियमित ओम मेडिटेशन करने से तनाव दूर होते है और दिमाग शांत रहता है ।

🍃ओम से आंखों में चमक आती हैं।

🍃ओम ध्वनि करने से थकावट दूर होती है और ॐ का मनन आपको नई एनर्जी देता है ।

🍃ओम से पाचन तंत्र मजबूत होता है|

🍃ओम की गूंज आपको स्वयं को नियंत्रित करने में सक्षम बनाती हैं |

🍃ओम के उच्चारण से कंपन पैदा होता है जो रीढ़ की हड्डी को मजबूती प्रदान करती है जिससे रीढ़ की हड्डी की क्षमता बढ़ती है।

🍃आपके चेहरे पर मुस्कान बनी रहती हैं।

🍃आप अपने जीवन के उद्देश्य और उसकी प्राप्ति की ओर अग्रसर होते हैं।

🍃नई उमंग आती है और घबराहट समाप्त हो जाती है ।

🍃थायराइड की बीमारी है तो वह समाप्त हो जाएगी , ओम ध्वनि से गले में कंपन पैदा होती है जिससे थायराइड ग्रंथि पर सकारात्मक ऊर्जा पड़ती हैं ।

🍃यदी किसी को ब्लड प्रेशर की समस्या है तो नियमित रूप से ओम का उच्चारण करने से रक्त का प्रवाह ठीक प्रकार से होने लगता है ।

🍃अनिद्रा की समस्या समाप्त हो जाती है ।

🍃आस्तमा जैसी बड़ी बड़ी बीमारी समाप्त हो जाती हैं।

🍃ओम की शक्ति आपके फेफड़ों और श्वासो को शुद्ध बनाती हैं ।

🍃ओम ध्वनि आपको सांसारिकता से अलग करके स्वयं से जोड़ती है ।

🍃नियमित ओम का मनन करने से पूरे शरीर को आराम मिलता है और हारमोंस तंत्र भी नियंत्रित होता है ।

🍃ओम का उच्चारण प्रदूषित वातावरण में आपके पूरे शरीर को विश मुक्त करता है ।

🍃ओम की ध्वनि से आपके संबंध सुधरते हैं ।

🍃आप अपने जीवन के उद्देश्य और उसकी प्राप्ति की ओर बढ़ते हैं ।

🍃ओम और फैफड़े – अगर आप ओम ध्वनि को कुछ विशेष प्राणायाम के साथ इसे करें तो फैफड़ो में भी मजबूती आती है ।

🍃ओम के उच्चारण से पाचन शक्ति भी तेज़ होती है।

🍃ओम ध्वनि ह्रदय और खून के प्रवाह को संतुलित रखती है। साथ ही यह शरीर में स्फूर्ति भी लाती है।

सही मायने में देखा जाए तो ओम ध्वनि हमारे शरीर के लिए सुरक्षा कवच है। इसके बहुत सारे लाभ हमने देखे ।
दोस्तों इन सभी लाभों को देखते हुए हमें ॐ ध्वनि खुद करनी भी चाहिए और दूसरो को करानी भी चाहिए ।☘️🌺

धन्यवाद

नविता ( शिवकुमारी )

0/Post a Comment/Comments