महंगाई पर निबंध – Essay on inflation in Hindi

Essay on inflation in Hindi : इस आर्टिकल लेख में हम आपको महंगाई पर निबंध के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देंगे। जो स्कूल में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए उपयोगी है।

प्रस्तावना: आज कल दिन प्रतिदिन महंगाई बढ़ती जा रही है। जिस वजह से लोग काफी ज्यादा परेशान भी रहते हैं। आज की कोरोना महामारी के दौरान भी महंगाई ने बुलंदियों को छू लिया है जिस वजह से जनता मंहगाई को कम करने के लिए सरकार पर दबाव डालती है आए दिन महंगाई को लेकर प्रदर्शन किया जाता है कभी कभी जरूरत की वस्तु को इतना ज्यादा महंगा कर दिया जाता है कि गरीब लोग उस वस्तु को खरीद पाने में असमर्थ हो जाती हैं क्योंकि उनकी सैलरी बहुत कम होती है जिस वजह से गरीब लोग मंहगाई को लेकर काफी ज्यादा चिंतित रहते है।

 

मंहगाई पर निबंध 400 शब्दों में। | Essay on inflation

 

मंहगाई क्या है?

मंहगाई का मतलब होता है वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि होना। जो भी हमारी जरूरत की खाने पीने की चीजें होती है उसकी कीमत में बढ़ोतरी होना जिस कारण देश की अर्थवयवस्था में उतार चढ़ाव होना। जिस वजह से कई वस्तुएं बाजारों में मिलना भी बंद हो जाती है, इसलिए जनता अपनी आय में वृद्धि के लिए सरकार से अनुरोध करती है। बढ़ती हुई मंहगाई भारत देश की सबसे बड़ी समस्या है। मंहगाई अब पूरे देश में चुनौती बन कर खड़ी हो चुकी है, मंहगाई को लेकर सरकार कभी भी कोई ठोस कदम नहीं उठाती है जिससे आम जनता ही मंहगाई से जूझ रही है।
Essay on inflation in Hindi

मंहगाई के कारण।

बड़ती जनसंख्या।

हमारा भारत देश जनसंख्या के मामले में दूसरे नंबर पर आता है। वैसे तो हमारा भारत देश कृषि प्रधान देश है, लेकिन जिस तरह हमारा भारत देश जनसंख्या में वृद्धि कर रहा है उस तरह हमारी फसलों में आए दिन गिरावट आती रहती है कृषि की पैदावार घटती जा रही है। इसी कारण हमारे देश में अन्न की कमी हो रही है, कई बार हमारे देश में विदेशों से भी अनाज मंगवाना पड़ता है, क्योंकि कई बार फसलों का नुक्सान ज्यादा हो जाता है और फसल जल्दी से उग नहीं पाती।

उपज की कमी के कारण मंहगाई इतनी ज्यादा बढ़ जाती है, कि मंडी में कई सब्जियां लुप्त हो जाती है। हमारे भारत देश में जब बाढ़ अकाल सुखा पड़ता है तो फसल नष्ट हो जाती है तो मंहगाई का बढ़ना जरूरी हो जाता है। वैसे तो हमारा भारत देश आजादी हो गया लेकिन आज हमारे देश के किसान की स्थिति  आज भी बुरी है कृषि विभाग में आज भी साधनों की कमी है हमारे किसान आज भी आजाद नहीं है।

 

कालाबाजारी की समस्या।

कालाबाजारी की वजह भी देश में मंहगाई की समस्या है जो लोगो तक अन्न भी है पहुंच पाता। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि जब मंडी में खाने पीने की चीजें आता है उसको धनी लोग अपने गोदामों में स्टोर करके रख लेते हैं। जब आपदा की स्थिति पैदा होती है तो उसे उचित दामो पर बेचा जाता है। फिर व्यापारी कई गुना दाम पर चीजों को बेचते हैं।

सरकार ने इसके खिलाफ कई कानून भी बनाए लेकिन इसपर किसी ने सही से अमल नहीं किया जिससे अमीर व्यापारी अनाज को बड़ी मात्रा में लेकर उचित दमो में बेचता है, जिससे व्यापारी काफी ज्यादा मुनाफा कमाया है और बाजारों में अनाजी की खपत रहती है। कभी कभी कुछ चीजें सस्ती हो जाती है लेकिन फिर बाद में दुबारा से महंगी हो जाती है।

 

भ्रष्टाचार की समस्या।

हमारे देश में भ्रष्टाचार इतना ज्यादा बढ़ता जा रहा है कि अमीर और धनी होता जा रहा है और गरीब और गरीब हो रहा है। भ्रष्ट लोग व व्यापारी की वजह से आज हमारे देश की महंगाई बढ़ती जा रही है, इसके तहत हमारी सरकार को ठोस कदम उठाने चाहिए हर व्यापार पर अपनी नजर रखनी चाहिए जिससे भ्रष्टाचार की समस्या को रोका जा सके और व्यापार में जो अधिक मुनाफा कमाते हैं उसे भी रोका जा सके। इन सभी चीजों को सरकार को ईमानदार लोगों को सौंपना चाहिए। ताकि बढ़ती मंहगाई पर रोक लगाई जा सके।

 

मुद्रा प्रसार।

हमारे देश में आज के समय में मुद्रा का प्रसार बढ़ता जा रहा है। जिस वजह से मंहगाई भी बढ़ रही है। जिससे वस्तु के मूल्य बढ़ते जा रहे हैं। जैसे पहले जो चीज कम दामों में मिल जाती थी। वहीं आज के समय में वह चीजे दुगने दामों में मिल रही है।

 

देश की सरकार जिम्मेदार।

हंसते देश में मंहगाई की समस्या को लेकर हमारी सरकार जिम्मेदार है क्योंकि वह कड़े कानून नहीं बनाती और कालाबाजारी व भ्रष्टाचार जैसे लोगो पर सरकार कोई नियंत्रण नहीं है उन्हें हमारी सरकार ने बढ़ावा दे रखा है इसलिए देश में मंहगाई घटने की बजाए बढ़ती जा रही है। इसलिए हमारी सरकार की जिम्मेदारी बनती है इन सभी पर नियंतरण रखा जाए।

 

मंहगाई पर निबंध 300 शब्दों में। | Essay on inflation

 

मंहगाई को रोकने के उपाय।

 

सख्त कानून बनाना।

भारत सरकार को भ्रष्टचार व जमाखोरी के खिलाफ सख्त कानून बनाने होंगे तभी हमारा देश एक दूसरे की मदद करेगा और बेमानी की कमाई पर रोक लगेगी कालाबाजारी पर रोक लग सकेगी जिससे गरीब मजदूर का शोषण कम होगा। जिससे हमारे देश में गरीबी से मुक्ति मिलेगी और बढ़ती मंहगाई पर रोक लग सकेगी। जिससे सभी समान रूप से मंहगाई से स्वतंत्र हो सकेंगे।

 

कृषि के संसाधनों में बढ़ोतरी करना।

सरकार को सबसे पहले किसानों के लिए सिंचाई करने के लिए साधनों को अधिक से अधिक उपलब्ध करवाना चाहिए। उनके लिए कई गुना उपकरण उपलब्ध करवाना चाहिए। साथ ही सरकार को मुद्रा स्फीति पर भी रोक लगानी चाहिए। बजट घाटों को बनाने पर रोक लगनी चाहिए। इससे हमारे देश के किसानों को मुनाफा मिल सकेगा।

 

गांव का विकास करना।

सरकार को महानगरों का विकास करने की बजाए गरीब कस्बों के विकास पर अपना ध्यान केंद्रित करना चाहिए। ताकि जो गरीब लोग है उन्हें भी पढ़ाई करने का मौका मिल सके और खाना पीना सही तरीके से उन तक पहुंच सके। जिससे कि वह लोग भी देश के  लिए आगे बढ़ सके। अपने देश का नाम रोशन करे जिससे हमारे देश की आर्थिक स्थिति में भी सुधार हो सकेगा।

 

ग्राहक का जागरूक होना।

हर ग्राहक को अपने सामान को लेकर जागरूक रहना चाहिए। ताकि जो भी दुकानदार उनके साथ बेमानी करें या मुनाफा कमाने की कोशिश करें या फिर कोई वस्तु उचित दाम पर बेचे तो इस तरह के दुकानदार के खिलाफ जल्दी से कंप्लेंट करवानी चाहिए। ताकि और को इस तरह की बेमानी करने का खौफ पैदा हो सके।

नोट- यह आर्टिकल आप सभी प्यारे विद्यार्थियों के लिए कितना उपयोगी रहा हमे कॉमेंट में जरूर बताएं। आपका इस लेख को पढ़ने के लिए धन्यवाद।

-जैनब खान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *