एक अच्छा व्यक्तित्व (Personality) कैसे बनाये? – How to make a good personality in Hindi

How to make a good personality in Hindi : नमस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल में आप जानने वाले है कि एक अच्छा व्यक्तित्व (Personality) कैसे बनाये? जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आज के दौर में एक अच्छा व्यक्तित्व (Personality) बहुत ही ज्यादा मायने रखती है। क्यूंकि हर कोई आपके व्यक्तिव (Personality) से आपको जज करता है। 

साथ ही हमें भी इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि हमारा व्यक्तिव ऐसा हो कि हर कोई हमारा फेन हो जाए। मतलब कि आपकी इनर पर्सनलिटी व आउटर पर्सनलिटी को इतना जबरदस्त तरीके से रखे कि आप की हर जगह हर कोई आपके व्यक्तिव की तारीफ़ करे। हालाकि कुछ लोगो का व्यक्तिव सच में इतना अच्छा होता है। कि उन लोगों को हम सभी पसंद करते हैं।

लेकिन बहुत से लोगों का व्यक्तिव इतना बेकार होता है कि लोग उनसे खुद दूर भागते हैं। हालाकि गलती उनकी नहीं है। अपने व्यक्तिव को लेकर अगर वो कुछ बातो का खयाल रखें और खुद में बदलाव लाने की कोशिश करें तो वह भी एक अच्छे व्यक्तिव के मालिक बन सकेंगे। तो आज का आर्टिकल उन्हीं लोगों के लिए है। आज मैं उन्हें कुछ ऐसे टिप्स दूंगी जिसे पढ़ कर वह एक अच्छा व्यक्तिव (Personality) हासिल कर सकेंगे।

व्यक्तिव क्या है? | What is personality?

यह जानना भी जरूरी है कि व्यक्तिव क्या है?  यह हमारी लाइफ में क्यों जरूरी है? यह सवाल आप सभी के मन में भी जरूर आते होंगे। और सभी लोग बोलते भी है कि हमें अपनी पर्सनलिटी बनानी है। 

कुछ लोग पर्सनालिटी डेवलपमेंट कोर्स भी करते है। दरअसल यह इसलिए भी जरूरी है कि हमारी पहचान हमारे व्यक्तिव से की जाती है। हमारे बात करने से खाने पीने ,उठने बैठने, चलने फिरने, का भाव आदि इन सभी चीजों का हर कोई हमारे अंदर सबसे पहले देखता है। जिसे बाहरी व्यक्तिव कहते हैं। जो हमारे लिए बहुत जरूरी है। दूसरा हमारा भीतरी व्यक्तिव होता है। जैसे दया, छल कपट, जलन, प्रेम करुणा, भला आदि। यह सब हमारे व्यक्तिव की पहचान है। सब लोग हमारे व्यक्तिव से हमे परखते है। इसलिए अच्छा व्यक्तिव जरूरी है। तो चलिए जानते है कैसे आप अपने व्यक्तित्व में बदलाव ला सकते है। 

बॉडी लैंग्वेज अच्छी रखें | Keep body language good.

तो सबसे पहले आपको अपनी बॉडी लैंग्वेज को अच्छी रख कर अपने व्यक्तिव को दर्शाना है। सबसे पहले अगर आप किसी से बाते कर रहे हैं या मिल रहे हैं। तो अपनी बॉडी लैंग्वेज का खासतौर पर ध्यान रखें। सही से बाते करे। एक प्रोफेसनल इंसान की तरह। आपके बैठने का तरीका व खड़े होने का तरीका सही होना चाहिए। हालाकि कई बार हम इन छोटी गलतियों पर ध्यान नहीं दे पाते। जो हमारे व्यक्तिव पर नकारात्मक असर डालती है। इसलिए इन बातो को ख्याल रख कर आप भी अपने व्यक्तिव को अच्छा बना सकते हैं।

अपने अन्दर सेल्फ कॉन्फिडेंस जरूर रखें | Keep self confidence in yourself

हमारे व्यक्तिव को दर्शाने के लिए सबसे जरूरी होता है। हमारा सेल्फ कॉन्फिडेंस जो हमारे अंदर किसी भी काम व बातो को लेकर हम कितना कॉन्फिडेंट है। मतलब कि हम सही है या गलत अपनी बातो को लेकर हमारे अंदर कितना कॉन्फिडेंस है। बहुत से लोग यही गलती करते हैं वो सोचते है कि सामने वाले को सब कुछ आता है। 

मतलब कि खुद को हर किसी के सामने कम व कमजोर समझना। दोस्तों सामने वाले को सबकुछ नहीं आता उसे सिर्फ वही आता है जो उसने सीखा है। आप भी अपने जीवन में सिखने की आदत डाले और एक क्रिएटिव इंसान बने। और हमेशा ये सोचो की कुछ भी असम्भव नहीं है। अपने ऊपर इतना कॉन्फिडेंस रखो। लेकिन कभी भी ओवर कॉन्फिडेंस नहीं होना। 

बातचीत करने में घबरायें नहीं | Don’t be afraid to talk.

हमारा व्यक्तिव हमारे बोलने के ढंग से भी हमें प्रभावित करता है। अकसर लोग बातचीत करने में घबराते हैं। या फिर अपनी बातो को सही तरीके से नहीं रख पाते हैं और घबराते है। लेकिन उन्हे अपनी कम्युनिकेशन स्किल को अच्छा करना चाहिए। 

दूसरी ओर ऐसे लोग भी होते हैं जिन्हें बात करने का कोई लेहजा नहीं होता। जिससे उनके व्यक्तिव पर बुरा असर पड़ता है। इसलिए उन्हें बात करने की तमीज सीख कर मीठी वाणी बोलनी चाहिए। जिससे उनके व्यक्तिव पर अच्छा प्रभाव पड़े।

अपने कपड़े पहने का तरीका सही रखें | keep your clothes right

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि सभी चाहते हैं कि हम अच्छे कपड़े पहन कर सुंदर व अट्रैक्टिव दिखे। लेकिन कई लोगो को कपड़े तक पहनने का ढंग नहीं होता है। कभी भी कुछ भी पहन लेते है। हालाकि यह जरूरी नहीं होता है कि हम मंहगे कपड़े पहन कर ही अच्छे लगेंगे। जरूरी यह है कि कपड़े को साफ सुथरा प्रेस किए हुए। सही ढंग से पहने। ताकि आप अच्छे दिखने के साथ आपका कॉन्फिडेंस भी अच्छा रखें। क्योंकि जब हम अच्छे बन कर रहते हैं तो हमारा आत्मविश्वास खुद ही बढ़ता है। तो दोस्तो खुद को अच्छा बना कर अपना व्यक्तिव सुधारें।

 

निष्कर्ष | Conclusion

मेरा अनुरोध यह है कि अपने व्यक्तिव को दर्शाने के लिए आपके अंदर बदलाव जरूरी है। आपके सोचने समझने का नजरिया अच्छा रखे। लाइफ में आगे बढ़े, खुद का ख्याल रखें, खुश रहे। सभी के लिए अपने भीतर प्रेम रखे। कुछ ऐसा करे जो आपको ना सिर्फ एक अच्छा इंसान बनाए बल्कि उससे आपका व्यक्तिव बेहतरीन हो सके।

:- दोस्तों आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा कमेंट बॉक्स में जरूर बताये।

              -जैनब खान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *