प्यार क्या है? | What is love in Hindi

What is love in Hindi :  यदि आप किसी से सच्चा प्यार करते है। तो आप उस इंसान का दर्द महसूस कर पाएंगे। आप हमेशा उसकी केयर करेंगे। उसके लिए हमेशा अच्छा सोचेंगे। प्यार बहुत ही खूबसूरत एहसास है। प्यार हमारे लिए God gifted है। जिसमें सभी मोती एक जुट हो कर रहते है। जिसमे एक दूसरे की भावनाओ को समझा जाता है। प्यार को हम एक ही शब्द में बयां नही कर सकते।

प्यार बहुत ही पवित्र माना गया है। ये प्राचीनकाल से हमारे समाज मे चला आ रहा है। जैसे कि हीर-राँझा का प्यार, लैला-मजनू का प्यार भले ही इनका प्यार पुराना हो, लेकिन आज भी हमारे समाज मे इनका प्यार अमर है। प्यार बहुत ही मिठास भरा एहसास है। जो कभी खत्म नही हो सकता। और भारत की संस्कृति में प्यार में एक दूसरे के प्रति सम्मान इज्जत दोनो का ही ख्याल रखा जाता है। और प्यार को अब विदेशो मे भी एक दूसरे के प्रति सम्मान इज्जत एकता का प्रतीक बनाया जा रहा है। प्यार वह है जो किसी से भी कभी भी हो सकता है। प्यार की कोई सीमा नही होती है।

 

प्यार होने के बाद क्या होता है?

प्यार बहुत ही प्यारा एहसास है। सच्चे प्यार में कभी भी जात-पात नही देखी जाती। न ही अमीरी-गरीबी देखी जाती है, और न ही उम्र देखी जाती है। यह एक प्रकार का अट्रेक्शन होता है। जो कभी भी किसी भी पर्सन से हो सकता है। जब प्यार एक दूसरे के बीच हो जाता है, तो वो दोनों एक दूसरे के बिना नहीं रह पाते। सिर्फ एक दूसरे की केअर की जाती है। एक दूसरे के बिना वह बहुत अधूरे होते हैं। और हमेशा एक दूसरे की छोटी-छोटी चीजो का ख्याल रखना। और एक दूसरे की हर बात मानना औऱ एक-दूसरे का हर सुख दुःख में साथ देना। एक दूसरे से बाते किये बिना न रह पाना, माइंड में हमेशा उसी का ख्याल रहना, हर किसी से उसकी तारीफ करना। और जो सच्चा प्यार होता है उसमें कभी भी शक्ल सूरत नही देखी जाती, बल्कि उसकी अच्छाई से प्यार हो जाता है। बस यही होता है प्यार।

 

एकतरफा प्यार 

कभी भी अपने प्यार को जबरदस्ती हांसिल करने की कोशिश न करें। और एकतरफ़ा प्यार आप न ही करे तो अच्छा है। क्यूंकि इसमें बहुत दर्द होता है। और जो व्यक्ति आप से प्यार ही नहीं करता आप मरो या जियो उसे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। फिर भी आप उसे प्यार कर रहे हो, तो ये पागलपन है। प्यार उसे करो जो तुम्हे प्यार करें। तभी आप खुश रह पाओगे।

प्यार की अब तक परिभाषा नही दी गई है और न ही प्यार को शब्दों में बताया जा सकता है। और न ही इसकी कोई मर्यादा होती है। सिर्फ प्यार एक लगाव है, जो इंसान को किसी के प्रति हो सकता है। प्यार होने में किसी को जरा भी टाइम नही लगता, लेकिन अगर प्यार को भुलाने की बात की जाए तो प्यार को भूलना बहुत ही ज्यादा कठीन हो जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जिस इंसान से प्यार होता है उसकी आदतों के हम आदि हो जाते है। तभी जल्दी से उसे भुलाया नही जा सकता है।

 

प्यार क्यों जरूरी है।

प्यार हर इंसान की लाइफ में जरूरी होता है। प्यार हमे हमेशा एक पॉजिटिव एनर्जी देता है। इंसान को हमेशा लाइफ में सहारा देता है और अपनेपन का एहसास करवाता है। प्यार वो है जो जिंदगी को सवार देता है, और एक अकेलापन दूर करने में बहुत जरूरी होता है। इसलिए आपको प्यार कभी हो जाये तो कभी भी इसे गलत न समझे। औऱ न ही प्यार का गलत मतलब निकाले। हमेशा अच्छे और सच्चे इंसान से ही प्यार करे। प्यार में इंसान को पूरा जहां अच्छा लगता है प्यार में इंसान बहुत ही ज्यादा खुश होता है और उसका मन से रूह तक को सुकून मिल जाता है। इसलिए इंसान किसी भी हद तक जाने को तैयार हो जाता है।

– जैनब खान

2 Comments

  • एक रिसर्च में यह साबित हुआ है कि प्यार का होना हमारे ब्रेन में केमिकल प्रोसेस की वजह से होता है. जैसे कोई भी सुन्दर चेहरा देखकर या किसी ऐसे इंसान से बाते करके जो आपके फेवर में बाते कर रहा है।

  • pyar kyo hota hai bhai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *