आदर्श विद्यार्थी पर निबंध | Essay on ideal student in Hindi

Essay on ideal student in Hindi

Essay on ideal student in Hindi : आज के लेख में आपको आदर्श विद्यार्थी पर निबंध की पूरी जानकारी बताएंगे। जो 1st से 12th क्लास के छात्रों के लिए उपयोगी है। इसलिए इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पूरा जरूर पढ़ें।

प्रस्तावना: आदर्श विद्यार्थी वह होता है जो रोज स्कूल जाता है। कक्षा में ध्यान लगाकर पढ़ाई करता है। आदर्श विद्यार्थी के गुण सबसे अलग होते हैं, जिसे पढ़ाई में रुचि होती है, जो अपने टीचर की बातो को ध्यान से सुनकर उस पर अमल करता है वहीं आदर्श विद्यार्थी कहलाता है।  जिसकी रुचि किताबो में हो, उसकी दोस्त किताब हो, जो विद्यार्थी सबसे अलग सोच विचार करके अच्छी तरह पढ़ाई लिखाई करता हो,

जो क्लास में अच्छे नंबर ला कर अपने माता पिता व शिक्षक का नाम रोशन करे, जो हमेशा सच बोलता है और चोरी व पूरी आदतों से दूर रहकर खुद को एक अच्छा इंसान बनाए वहीं एक अच्छा विद्यार्थी कहलाता है। जो अच्छे दोस्त बनाता हो जिसकी संगती अच्छी हो यही एक नेक विद्यार्थी की पहचान है जिसका व्यवहार अच्छा होता है एक आदर्श विद्यार्थी मेहनती होता है वह अलग अलग कामों में रुचि रखता है यही सभी आदत एक आदर्श विद्यार्थी की पहचान बनती है।

 

आदर्श विद्यार्थी पर निबंध 400 शब्दों में | Essay on ideal student in Hindi

आदर्श विद्यार्थी पर निबंध


बच्चो को एक आदर्श विद्यार्थी बनाने में माता पिता की भूमिका

सभी माता पिता को अपने बच्चो पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान देना चाहिए उसे किसी भी काम को करने के लिए ज्यादा छूट नहीं देनी चाहिए। अपने बच्चो को बचपन से घर पर पढ़ाई लिखाई करने के लिए बिठाना चाहिए और उसे पढ़ाई लिखाई से संबधित वीडियो व किताबे दिखानी चाहिए ताकि उसका दिमाग शुरू से ही पढ़ाई में लगा रहे साथ ही उसे खेलने कूदने की भी छूट देनी चाहिए।

माता पिता को बच्चो को बचपन से ही आदर सम्मान करने की आदत डालनी चाहिए, अगर बच्चा कोई गलती करता है तो उसे समझाना चाहिए ताकि वह आगे जाकर एक आदर्श विद्यार्थी बन सके। क्योंकि सबसे पहले बच्चो को घर से ही अच्छे बुरे की समझ उसके घर से ही मिलती है, जिसे वह बच्चा अपने व्यवहार में शामिल करता है। बच्चो के लिए सबसे एहम भूमिका उसके माता पिता की होती है तभी वह एक अच्छा इंसान व अच्छा विद्यार्थी बन पाता है। यह सभी आदत आपके बच्चो को आदर्श विद्यार्थी बनाती है।

 

छात्र को आदर्श विद्यार्थी बनाने में टीचर्स की भूमिका।

विद्यार्थी को आदर्श बनाने में एक टीचर्स की भूमिका बहुत ही एहम होती है टीचर्स को क्लास में सभी बच्चो को अच्छी आदतों को बताना चाहिए और सभी बच्चो को किताबे पढ़ानी चाहिए जिससे हर विद्यार्थी का मनोवल बढ़ सके इसलिए हर छात्र को कुछ अच्छा करने के लिए टीचर्स को प्रोत्साहित करना चाहिए।

क्योंकि यह टीचर्स का कर्तव्य है सभी स्टूडेंट को आदर्श बनाने में वह अपनी एहम भूमिका निभाएं। किसी भी स्टूडेंट में आदतों को पैदा करने के लिए उसकी परख माता पिता व टीचर्स का कर्तव्य होता है एक आदर्श विद्यार्थी की रुचि को पहचाने के लिए उस में हमेशा सकारात्मक सोच को पैदा करे। तभी वह एक आदर्श विद्यार्थी बन सकता है।

 

आदर्श विद्यार्थी पर निबंध 400 शब्दों में | Essay on ideal student in Hindi

आदर्श विद्यार्थी पर निबंध


आदर्श विद्यार्थी बनाने के लिए यह गुण होने चाहिए।

* रोजाना सुबह जल्दी उठें।

एक आदर्श विद्यार्थी सवसे पहले सुबह उठ कर योगा करता है और फ़िर नहाकर कर जल्दी से स्कूल के लिए तैयार होता है फिर नाश्ता करता है उसके बाद स्कूल जाता है और एक आदर्श विद्यार्थी रोजाना स्कूल जाता है। यह सभी एक आदर्श विद्यार्थी की पहचान होती है।

 

* रोजाना पढ़ाई करता है।

प्यारे विद्यार्थियों आप सभी को एक आदर्श विद्यार्थी बनने के लिए रोजाना पढ़ाई करनी चाहिए और अपनी पढ़ाई को खूब मन लगाकर करनी चाहिए जिससे आप अच्छे नंबर लाकर आदर्श विद्यार्थी बने। एक आदर्श विद्यार्थी बनने के लिए यह गुण होने चाहिए।

 

* समय पर खाना खाएं।

एक आदर्श विद्यार्थी कभी भी खाना खाने में नखरे नहीं करता उसे जो खाना मिलता है उसे खुशी खुशी खा लेना चाहिए। जिससे आपकी हेल्थ अच्छी रहेगी। और आपका दिमाग भी अच्छा रहेगा। खाना हमेशा समय पर ही खाएं।

 

एक आदर्श विद्यार्थी की विशेषताएं।

जिज्ञासु

एक आदर्श विद्यार्थी अलग अलग कामों में रुचि रखता है अपने ज्ञान को बढ़ाता है और हर छोटी छोटी बातों को जानने समझने की कोशिश करता है जिससे उसकी जिज्ञासा बढ़ती है। उसकी सोच सकारात्मक रूप से प्रभावित होती है।

 

जानने के लिए उत्सुक

एक आदर्श विद्यार्थी में हर चीज को जानने के लिए उत्सुकता रहती है वह अपनी क्लास में टीचर्स से सवाल भी करता है यह एक आदर्श विद्यार्थी में सबसे अच्छी बात होती है। एक आदर्श विद्यार्थी टिप्पणी करने के लिए किताबे पढ़ते हैं और इंटरनेट के माध्यम से अलग जानकारियां निकाल कर अपने सवाल का जवाब ढूंढता है।

 

आदर्श विद्यार्थी मेहनती होता है।

एक आदर्श विद्यार्थी कभी भी अपने कार्य को पूरा करने में अलास नहीं दिखता बल्कि हर काम को समय के साथ मेहनत लगन से पूरा करता है। जिससे वह हर काम में सफल भी रहता है।

 

लक्ष्य निर्धारित करता है।

एक आदर्श विद्यार्थी अपना लक्ष्य निर्धारित करता है वह कभी भी हार नहीं मानता बल्कि पूरी शिदत के साथ अपने लक्ष्य को हासिल करता है। अपने लक्ष्य के प्रति जागरूक रहता है।

 

भरोसेमंद।

एक आदर्श विद्यार्थी बहुत ही भरोसेमंद होता है उससे सभी जो चाहते हैं वहीं पूरा करते हैं इसलिए सभी विद्यार्थी को अपने टीचर्स की बात मान कर भरोसा जितना चाहिए। जिससे आपको एक आदर्श विद्यार्थी बनने में सफलता मिलेगी।

 

सकारात्मक दृष्टिकोण।

एक आदर्श विद्यार्थी अपनी सोच को पूरी तरह सकारात्मक रखता है जैसे क्लास में कभी सरप्राइज टेस्ट होता है तो वह उस टेस्ट को सकारात्मक तरीके से सोच समझ कर उसे पूरा करता है। साथ ही स्कूल में होने वाली प्रतियोगिता में हिस्सा भी लेता है।


आदर्श विद्यार्थी पर 300 शब्दों में निबंध | Essay on ideal student in Hindi

Essay on ideal student


आदर्श विद्यार्थी कैसे बने?

सूची बनाएं

एक आदर्श विद्यार्थी बनने के लिए आपको अपने समय का पूरा उपयोग करने के लिए उसकी सोच समझ कर पूरी सूची बनाएं और समय अनुसार अपना हर कार्य को पूरा करें।

 

अच्छे दोस्त बनाए।

आदर्श विद्यार्थी को अपनी संगती का ख्याल रखना चाहिए उन्हें अच्छे अच्छे दोस्त बनाना चाहिए। ताकि वह दोस्त आपकी मदद करें और आपके साथ हमेशा पढ़ाई लिखाई करें। और लाइफ में कुछ अच्छा करने की आशा रखे।

 

अपनी दिनचर्या अच्छी रखे।

पोस्टिक खाना खाएं साफ सफाई का खयाल रखें हमेशा साफ सुथरे कपड़े पहने और अपने समय का सदुपयोग करें।  अपनी नींद को पूरा करे खेले मस्ती करे और पढ़ाई लिखाई करना ना भूले। जिंदगी को अच्छी तरह व्यतीत करें। अच्छे नंबरों से पास होने की कोशिश करें। क्लास में टॉपर बनने के लिए कड़ी मेहनत करे।

 

अपनी पढ़ाई के समान को संभाल कर रखे।

एक आदर्श विद्यार्थी अपनी सभी कॉपी किताबो को संभाल कर रखता है कभी भी कॉपी किताबो को फटने नहीं देता उस पर अच्छी तरह कवर चढ़ा कर रखता है। स्टडी का सभी सामान अपने घर में संभाल कर रखता है। ताकि समय पर उसे आसानी से सारा पढ़ाई का समान मिल जाए। ये आदत आदर्श विद्यार्थी में जरूर होनी चाहिए।

 

आदर्श विद्यार्थी सभी की मदद करता है।

आदर्श विद्यार्थी को सभी की मदद करनी चाहिए क्लास में कभी भी किसी से झगड़ा नहीं करना चाहिए सभी के साथ प्यार से रहना चाहिए एक आदर्श विद्यार्थी को स्कूल में सभी पसंद करते हैं। यही उसे अलग पहचान दिलाती है।

 

आदर्श विद्यार्थी की पहचान कुछ इस तरह होती है।

*वह पढ़ाई में सबसे अच्छा होता है।

*आदर्श विद्यार्थी हमेशा प्रथम स्थान प्राप्त करता है।

*आदर्श विद्यार्थी को सभी प्यार करते हैं।

*वह हमेशा हर प्रतियोगिता खेल कूद व चित्रकला में हिस्सा लेते है।

*वे अपने काम को हमेशा पूरा करते हैं।

*वे रोज किताबे पढ़ते हैं।

*वे हमेशा सच बोलते हैं।

*आदर्श विद्यार्थी अपने पाठ को याद भी करते हैं।

*वह क्लास में खड़े हो कर याद किया हुआ सुनाते भी है।

 

नोट

आप सभी बच्चो को आदर्श विद्यार्थी पर निबंध कितना उपयोगी रहा हमे कॉमेंट में जरूर बताएं। अगर आपको किसी भी टॉपिक पर निबंध लेखन समझ नहीं आ रहा तो हमे कॉमेंट बॉक्स में निबंध का टॉपिक जरूर बताएं। ताकि हम इसी तरह का लंबा निबंध लिख कर आपकी सहायता करेंगे। यह लेख पढ़ने के लिए आप सभी का धन्यवाद।

-जैनब खान

0/Post a Comment/Comments