बिल गेट्स की जीवनी – Bill Gates biography in Hindi

Bill Gates biography in Hindi : दोस्तो बिल गेट्स का नाम आप सभी ने सुना ही होगा। जो दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक है। जिन्होने अपने दम पर माइक्रोसॉफ्ट कंपनी बनाई। जो दुनिया भर में फैली हुई है।

इस आर्टिकल में आपको बिल गेट्स की जीवनी के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी। जिससे आपको अपनी लाइफ में आगे बढ़ने की प्रेरणा जरुर मिलेगी। और आप जानेंगे किस तरह बिल गेट्स ने अपनी लाइफ में संघर्ष करके खुद को आगे बढ़ाया।

बिल गेट्स का शुरुआती जीवन।

बिल गेट्स का जन्म 28 अक्टूबर 1955 को वाशिंगटन में एक धनी परिवार में हुआ था। पिता का नाम बिलियन एच गेट्स और माता का नाम मेरी मैक्सबेल था। पिता प्रतिशिक्षित वकील थे और माता बैंक की व्यवस्थापक मंडल की सदस्य थी। बिल गेट्स का पूरा नाम बिलियन हेनरी गेट्स है।

 

बिल गेट्स के माता पिता का सपना था कि वह कानून में अपना कैरियर बनाए। लेकिन बिल गेट्स बचपन से ही कंप्यूटर टेक्नोलॉजी व विज्ञान में दिलचस्पी रखते थे। जब बिल गेट्स 8 वी कक्षा में थे उन्होंने पहला कंप्यूटर प्रोग्राम लिखा उस कंप्यूटर प्रोग्राम का नाम था “टिक टो” इसका उपयोग कंप्यूटर से गेम खेलने में किया जाता है। बिल गेट्स अपनी इस अविष्कार से काफी ज्यादा प्रभावित हुए और वह जानने के लिए इच्छुक थे कि ये सॉफ्टवेयर कॉड्स कैसे काम करते हैं।

 

बिल गेट्स की कैरियर की शुरूआत

बिल गेट्स जब 17 वर्ष के थे उन्होंने अपने दोस्त ऐलन के साथ मिलकर ट्राफ ओ डाटा नामक उपकर्म बनाया इटेल प्रोसेसर पर आधारित था जो यातायात काउंटर बनाने के लिए उपयोग में लाया गया। इस अलावा बिल गेट्स ने चिप बनाया जो उस समय का व्यक्तिगत कंप्यूटर पर चलने वाला व सबसे ज्यादा उपयोग में लाने वाला चिप था। इसके अलावा उन्होंने काफी सॉफ्टवेयर बनाए।

 

उसके बाद जब वह 32 वर्ष के हुए। सन् 1987 में अरबपतियो की सूची में नाम आया, साथ ही कई सालो तक सूची में प्रथम स्थान पर बिल गेट्स का नाम रहा। उन्होंने 2007 में उन्होने 40 अरब डॉलर दान में दिए। बिल गेट्स के काम में 2010 में लगभग 63 बिलियन डॉलर और उन्हें अपने बिज़नेस में फायदा 19 डॉलर रहा।

 

बिल गेट्स का निजी जीवन

बिल गेट्स की शादी फ्रांसीसी मेलिंडा के साथ हुई थी। उनके तीन बच्चे हैं। और उनका बंगला काफी ज्यादा आलीशान है। जो डेढ़ एकड़ का है, उनके बंगले में 7 बेडरूम सुविमिंग पुल व जीम थियेटर आदि है। आज से तकरीबन 15 साल पहले तकरीबन 60 डॉलर में खरीदा था।

 

बिल गेट्स अपनी पूरी संपत्ति अपने बच्चो के लिए नहीं छोड़ना चाहते। उनका मानना था कि अगर वह अपने बच्चो के लिए अपनी संपत्ति का एक प्रतिशत भी छोड़ दे तो वो उनके लिए बहुत होगा। उन्होंने दो किताबें भी लिखी है। द रोड अहेड और बिज़नेस स्पीड ऑफ थॉट्स। साथ ही उन्होने गरीबों की भी काफी मदद की। और 16 साल तक बिल गेट्स अरबपतियों की सूची में  प्रथम स्थान पर रहे।

 

माइक्रोसॉफ्ट

बिल गेट्स ने सन् 1975 में अपने दोस्त एलन के साथ मिलकर माइक्रोसॉफ्ट की स्थापना की। जो दुनिया की सबसे बड़ी PC सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी बनी। फिर बिल गेट्स इस कंपनी के CEO बने और 2014 में विश्व के सबसे बड़े शेयर होल्डर बने। बिल गेट्स की सम्पत्ति 2014 में US 15 बिलियन डॉलर बढ़ी और आज के समय में बिल गेट्स विश्व के सबसे अमीर आदमी है।

 

बिल गेट्स की रुचि केवल सॉफ्टवेयर बनाने में नहीं रही बल्कि अपने बिज़नेस को किस तरह आगे बढ़ाया जाए। इस बारे में भी वह अच्छी नीति बनाते थे और जब भी कंपनी में Employee द्वारा जब भी Code बनाए जाते अगर उन Code Error आता तो बिल गेट्स खुद उन Error को हटाया करते थे। उनकी इस लगन व मेहनत ने उन्हें इतनी अच्छी कमियाबी दी आज उनकी कंपनी की इतनी तरक्की हो गई। Apple IBM Intel जैसी Hardware Company की बराबरी की।

बिल गेट्स के विचार।

*जो व्यक्ति बेवकूफ बनकर खुश रहते हैं उन्हें सफलता जल्दी मिलती है।

*में कठिन काम को करने के लिए एक अलसी इंसान का चुनाव करूंगा क्योंकि वह उस काम को करने के लिए आसान रास्ता खोजता है।

*मै परीक्षा में फेल हो गया और मेरे सभी साथी पास हो गए लेकिन अब वे माइक्रोसॉफ्ट कंपनी में इंजीनियर है लेकिन मैं उस कंपनी का मालिक हूं।

*चाहे आप में कितनी ही योग्यता क्यों न हों लेकिन धैर्य के साथ ही आप काम करते हैं तो ही आप महान कार्य कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *