क्रिसमस डे पर निबंध – Essay on Christmas Day in Hindi

Essay on Christmas Day in Hindi : क्रिसमस ईसाई धर्म का सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार है। इस दिन ईसा मसीह का जन्म हुआ था। यह त्यौहार ठंड के दिनों में 25 दिसंबर को मनाया जाता है। साथ ही दुनिया भर में हर कोई इस त्यौहार को धूम-धाम से मनाते हैं इस दिन सभी लोग पार्टी भी धूम-धाम से करते हैं। साथ ही क्रिसमस डे का खासतौर पर बच्चो को बेहद इंतजार रहता है। क्योंकि उन्हें यह लगता है कि उनके लिए सेंटा क्लॉज आएगा और ढेर सारे सुंदर गिफ्ट लाएगा। 

हर चर्च में इस दिन बहुत ज्यादा सजावट की जाती है और रात को 12 बजे खूब धूम-धाम के साथ क्रिसमस मनाया जाता है। सेंटा क्लॉज बन कर डांस करते हैं और बच्चो को भी सभी लोग सैंटा क्लॉज की कपड़े पहनाकर क्रिसमस मनाते हैं। इस दिन सभी सरकारी स्कूल कॉलेज दफ्तरों में छुट्टी होती है।

 

क्रिसमस पर निबंध लेख 300 शब्द में।

Essay on Christmas Day in Hindi

क्रिसमस डे इसलिए मनाया जाता है क्योंकि इस दिन ईसा मसीह का जन्म हुआ था। यह त्यौहार पूरी दुनिया भर में धर्मनिरपेक्ष छवि के साथ मनाया जाता है। बड़े, छोटे, बूढ़े लोग सभी क्रिसमस को बड़ी ही उत्साहपूर्वक मनाते हैं। क्यूंकि यह एक खुशियों का त्यौहार है। 25 दिसंबर को सभी इस दिन अलग-अलग तरह से तैयारियां शुरू कर देते हैं। यह दिन ईसाईयों के लिए बहुत खास दिन होता है। सभी एक दूसरे को अलग-अलग तरह के गिफ्ट व ग्रीटिंग कार्ड्स देते हैं। एक दूसरे से स्नेह करते है और यह क्रिसमस ट्री के साथ यह पर्व बड़ी ही सुंदरता से मनाया जाता है। इस त्यौहार की तैयारी एक महीने पहले से ही ईसाई लोग शुरू कर देते हैं। यह त्यौहार क्रिसमस के 12 दिन बाद खतम होता है। 

 

क्रिसमस का महत्व।

इस दिन लोग अलग-अलग तरह के केक व मिठाईयां पकवान बना कर एक बड़ी पार्टी रखते हैं। जिसमे ईसाई लोग अपने सभी रिश्तेदार दोस्त को इन्वाइट करते हैं। फिर 12 बच्चे केक काट कर एक दूसरे के साथ क्रिसमस मनाया जाता है। उस दिन रात को गाना बजाना कर खुशी मनाते हैं। इंजॉय व डांस भी खूब करते हैं। फिरअच्छे अच्छे व्यंजनों को डेनिंग टेबल पर सजा कर एक साथ बैठ कर भोजन करके लुत्फ उठाते हैं। साथ ही इस दिन ग्रीन रंग का पेड़ खूब अच्छी तरह सजाया जाता है। और सभी को इस दिन गिफ्ट भी दिए जाते हैं वहीं दूसरी और बच्चो के पास सेंटा क्लॉज गिफ्ट रख कर जाता है वह फिर सुबह उठ कर उस गिफ्ट को देखकर बहुत खुश होते हैं। इस दिन कोई सेंटा क्लॉज के कपड़े व सुंदर पहन कर आते हैं। इस दिन सभी एक दूसरे के साथ सेल्फी क्लिक करते हैं। यह त्योहार सभी को मानना चाहिए।

 

निबंध (भाग 2)  500 शब्दों में।

क्रिसमस का इतिहास।

क्रिसमस का त्यौहार एन्नो डोमिनी काल प्रणाली के मुताबिक यशु का जन्म  7 से 2 ईसा पूर्व के बीच इनका जन्म हुआ था। ईसा मसीह की वसताविक जन्म तिथि के बारे में कोई वास्तविक तिथि नहीं है। इसी दौरान, 25 दिसंबर का बड़ा दिन कहलाने वाले दिन को ईसा मसीह के जन्म की खुशी में मनाया जाता है। एक और यह भी कहा जाता है कि रोमन पर्व या मकर संक्रान्ति संबंध स्थापित करने के  आधार पर चुना गया है। क्रिसमस के दिन बहुत ही उत्साह के साथ सभी के साथ मनाया जाता है। इस दिन सभी अपने अपने कामों में फ्री होते हैं। क्रिसमस सभी के लिए खुशियों का त्यौहार है। क्रिसमस से 12 दिन के उत्सव क्रिसमसटाइड की भी शुरुआत होती है।

 

क्रिसमस क्यों मनाया जाता है ?

इस दिन पूरे विश्व में जोरो शोरो से मनाया जाने वाला सबसे बड़ा त्यौहार है। इस दिन ईसा मसीह का जन्म हुआ था। उन्हीं को याद करते हुए इस दिन को खास तरीके से मनाया जाता है। क्रिसमस से पहले सभी चर्च में सफाई होती है सफेद रंग की सफेदी होती है। रंग बिरंगी लाइट लगाई जाती है। जिस दिन क्रिसमस आता है उस दिं सभी चर्च में जा कर एक साथ मिलकर केक काटकर यशु को याद करते हैं। साथ ही उनसे जुड़ी कहानी किस्से भी सुनाए जाते हैं। अलग अलग तरह की प्रतियोगिता भी आयोजित की जाती हैं। इसलिए यह दिन सभी के लिए खास व उत्साह भरा होता है।

 

क्रिसमस की मान्यताएं व परंपराएं।

ईसाई लोगों का यह मानना है कि ईसा मसीह सभी इंसान की रक्षा करने के लिए धरती पर भेजा गया है। और यह भी एक परम्परा है कि क्रिसमस वाले दिन ईसाई धर्म के सभी लोग एक दूसरे को एक जगह एकत्रित हो कर अच्छे अच्छे गिफ्ट, ग्रीटिंग, ग्रीन ट्री चॉकलेट मिठाईयां आदि भेट के रूप में देते हैं। उसके बाद डिनर पार्टी का भी आयोजन करते हैं। इस दिन सभी एक दूसरे को खुश करते हैं। ताकि सभी के बीच प्रेम बना रहे। क्रिसमस ईसा मसीह का प्रतीक माना गया है धर्म के लोग यह भी मानते हैं कि ईसा मसीह ईश्वर के पुत्र थे। पहले सिर्फ इसी धर्म के लोग क्रिसमस मनाया करते थे। लेकिन आज के समय में सभी धर्म के लोग क्रिसमस मानना पसंद करते हैं। साथ ही क्रिसमस पूरे विश्व में लोकप्रिय त्यौहार बन गया है। यह त्यौहार ईसाई धर्म के लिए उतना ही जरूरी है। जितना हिन्दुओं के लिए दीपावली मुस्लिम समुदाय के लिए  ईद होती है।

 

निष्कर्ष

यह आर्टिकल ख़ासतौर पर सभी विद्यार्थियों ने लिए बहुत ही लाभदायक है। क्यूंकि स्कूल में क्रिसमस पर प्रतियोगिता आयोजित की जाती है। उस में सभी स्टूडेंट इसमें से लिख कर एक सुंदर क्रिसमस पर लिख सकते हैं। अगर आपको क्रिसमस पर निबंध लेखन पसंद आया है तो कमेंट में जरूर बताएं।

         

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *