विज्ञान वरदान या अभिशाप पर निबंध – Essay on science a boon or a curse in Hindi

Essay on science a boon or a curse in Hindi : विज्ञान एक वरदान है। जो आज के आधुनिक युग में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। जिसके जरिए आज भारत विकास की ओर बढ़ रहा है। तो कुछ देश इसकी वजह से विकसित देशों में गिने जाते हैं।

विज्ञान की सहायता से आज हमें हर क्षेत्र में लाभ मिल रहा है। तो वही कुछ क्षेत्रों में इसका दुरुपयोग भी हो रहा है। जिस कारण लोगों के लिए विज्ञान एक अभिशाप बन चुका है क्योंकि हम विज्ञान का उपयोग दैनिक जीवन से लेकर परमाणु हथियार बनाने तक के लिए भी करते हैं। जिस कारण विज्ञान वरदान तो है पर उतना ही बड़ा अभिशाप भी है।

विज्ञान का महत्व :

विज्ञान आज आधुनिक युग में ही नहीं अपितु प्राचीन काल में भी हमें देखने को मिले। जब किसी को पता भी नहीं था कि यह जो खोज की वह वैज्ञानिक दृष्टिकोण से अविष्कार है। जैसे आग की खोज। जो अनजाने में आदिमानव ने कर दिया था, फिर पहिये की खोज ऐसे ही करते करते आज हमारा देश न जाने कितने आविष्कार कर चुका है और न जाने आगे भविष्य में कितने आविष्कार करेगा। इन बातों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि विज्ञान का महत्व हमारे जीवन में क्या है और हमारा दैनिक जीवन भी कितना इस पर निर्भर है। जहाँ पहले लोग दिया जलाकर घर में रोशनी करते थे।

आज विज्ञान की सहायता से घर घर में रोशनी एक बटन दबा कर हो जाती है। देखा जाए तो विज्ञान एक अहम भूमिका निभा रहा है। हमारे जीवन में जिसकी मदद से आज हम कई तरह की बीमारियों का भी सामना करने में सक्षम बन पाए हैं। इसलिए यह कहना गलत नहीं होगा कि आज हमारे दैनिक जीवन के साथ साथ देश के विकास तक मे एक बहुत बड़ा हाथ विज्ञान का ही है।

विज्ञान का प्रयोग किन किन क्षेत्र में हो रहा है ?

विज्ञान जिसका उपयोग लगभग हर क्षेत्र में किया जा रहा है क्योंकि हर क्षेत्र का आरंभ ही विज्ञान से हो रहा है। फिर चाहे वो इंजीनियरिंग हो या डॉक्टर बनाना आदि और इसके कुछ उपयोग हम आपको बता रहे हैं। जो मानव जीवन के हर क्षेत्र में प्रयोग होता ही है।

1. मनोरंजन के क्षेत्र में :

जहाँ पहले लोगों को मनोरंजन के लिए बड़े बड़े पैमाने पर कोई भव्य उत्सव के मध्यम से मनोरंजन किया करते थे जैसे – कुश्ती प्रतियोगिता आयोजित कर के आदि या फिर मुश्किल से ही उन चीजों का आनंद ले पाते थे। वहीं आज लोग घर बैठे मनोरंजन कर पाते हैं। उन्हें कहीं जाने की आवश्यकता नहीं है। बस बटन दबाना है और मनोरंजन के कार्यक्रम टीवी पर नजर आने लगते हैं जैसे – रेडियो, टीवी, चलचित्र आदि और यह सब विज्ञान की ही देन हैं।

2. शिक्षा के क्षेत्र में :

आज के युग में विज्ञान का एक बहुत बड़ा हाथ शिक्षा के क्षेत्र में है और यह देखने को भी मिलता। मुद्रण यंत्रों की वजह से हमारी पुस्तकें और समाचार पत्र आदि प्रकाशित हो पा रहे हैं। जिनके माध्यम से हम उन पुस्तकों को पढ़ अपना ज्ञान बड़ा रहे हैं। इतना ही नही अपितु इंटरनेट, कंप्यूटर के माध्यम से हम घर बैठे भी शिक्षा ले पा रहे है। इसका वर्तमान उदाहरण हम कोरोना काल के इन कुछ महीनों को ले सकते हैं। यह सब बंद होकर भी वैज्ञानिक आविष्कारों की सहायता से हम अपनी पढ़ाई को जारी रख पाए। इसलिए विज्ञान का इस क्षेत्र में काफी बड़ा योगदान है।

3. कृषि के क्षेत्र में :

विज्ञान ने कृषि के क्षेत्र में भी काफी सहायता की है। जिसकी वजह से भारत जैसे  सवा करोड़ लोगों की जनसंख्या वाला देश भी कृषि के क्षेत्र में अग्रसर हो रहा है। असज कृषि करने के नए नए तरीके हैं। जिनसे हम अपनी फसलों का ध्यान रख सकते हैं और साथ ही उसे कीटनाशक दवाओं के कारण सुरक्षित भी रख सकते हैं। विज्ञान की सहायता से ही आज हम छोटे छोटे बांध बनाकर नहरों को निकाल पाए हैं। जिस वजह से अब किसानों को सिंचाई के लिए आसानी से जल प्राप्त हो जाता है।

4. औघोगिक क्षेत्र में :

औघोगिक क्षेत्र में विज्ञान का होना आम लोगों के लिए काफी राहत की बात है क्योंकि विज्ञान के कारण ही बड़ी बड़ी मशीनों का अविष्कार हो पाया है और देश औघोगिक क्षेत्र में विकास कर पा रहा है। इससे लोगों को भी सस्ते दामों पर वस्तुएं प्राप्त हो जाती हैं। विज्ञान के कारण आज लोग अपने बहुमूल्य समय को बच उसे और दूसरे कार्य में प्रयोग ला पा रहे हैं।

5. संचार के क्षेत्र में :

संचार के क्षेत्र में भी विज्ञान ने क्या आविष्कार किया है। जहां पहले लोग चिट्टी लिखकर एक दूसरे का हाल चाल पूछा करते हैं। आज वो मोबाइल फोन, इंटरनेट आदि की सहायता से पलभर में एक दूसरे से बात भी कर रहे और देख भी रहे हैं। इससे पता चलता है कि विज्ञान में कितनी तरक्की की है।

6. यात्रा के क्षेत्र में :

यात्रा के क्षेत्र में विज्ञान के आविष्कार ने इसे बहुत ही सरल और सुगम बना दिया है। पहले यह यात्रा या तो पैदल की जाती थी या फिर टांग, घोड़े आदि के जरिए किया जाता था। आज वो विज्ञान साइकिल से हवाई जहाज उड़ने तक का सफर तय कर अद्धभुत आविष्कार कर चुका है। जिससे हमारे यात्रा के क्षेत्र में काफी वृद्धि हुई है।

7. औषधि के क्षेत्र में :

विज्ञान ने औषधि के क्षेत्र में भी काफी विकास किया है जिस वजह से आज हर बीमारी का इलाज हमारे वैज्ञानिकों ने ढूढ़ है फिर चाहे वो डेंगू हो या मलेरिया आदि। इन आविष्कार से मनुष्य को काफी लाभ पहुँचा है।

विज्ञान वरदान के रूप में :

Essay on science a boon or a curse in Hindi
मानव जीवन में आज विज्ञान का बहुत महत्वपूर्ण स्थान है। पहले लोगों को वस्त्र आदि का निर्माण करना भी आता था। आज विज्ञान की आधुनिक मशीनों के जरिए यह सब हम कर सकते हैं। जहाँ पहले लोगों को कई बीमारियों से ग्रसित हो कर मरना पड़ता था। आज वह विज्ञान की सहायता से उन बीमारियों का इलाज करवा लेते हैं। पहले जहाँ बिजली की जगह मोमबत्ती का प्रयोग होता था रोशनी के लिए वह आज बिजली से रोशनी की जा रही है। देखा जाए तो मानव जीवन पूरा ही विज्ञान पर आधारित हो गया है। जहाँ सुबह से शाम तक केवल इसी का प्रयोग होता है।

विज्ञान अभिशाप के रूप में :

Essay on science a boon or a curse in Hindi
विज्ञान जहाँ एक तरफ हमारे लिए वरदान का कार्य कर रहा है।तो वहीं दूसरी तरफ एक अभी अभिशाप बन गया है। जहां विज्ञान ने मानव जीवन को बहुत सी सुविधाएं उपलब्ध कराई है। तो वही दूसरी तरफ उन सुविधाओं के कारण लाखों लोगों ने अपने व्यवसाय से हाथ धोना पड़ा है। जिस कारण लोगों को अपनी जान गवनी पड़ रही है। बड़े बड़े उघोगों में मशीनीकरण के कारण लोगों का कार्य छूट रहा है। देश में बेरोजगारी की समस्या बड़ रही है।

जहाँ विज्ञान ने मानव जीवन को पहले के मुताबिक सभ्य समाज में रहने योग बनाया है तो वहीं दूसरी तरफ विज्ञान की सहायता से बंदूकों, परमाणु बम, तलवार आदि का आविष्कार भी किया है।

जहाँ विज्ञान ने बिजली का एक महान आविष्कार किया है। जिससे हम किसी भी समय उसका प्रयोग कर अपना कार्य कर सकते हैं। स्कूल और कॉलेजों का भी कार्य कर सकते हैं। तो वहीं दूसरी तरफ बिजली से करंट लगने की न जाने एक दिन में कितने लोगो की मारने की खबर आ रही है। जो लोगों के जीवन के लिए एक अभिशाप है।

जहां एक तरफ़ मशीनीकरण ने मनुष्य के जीवन के बहु मूल्य समय को बच अन्य कर्यो के लिए प्रेरित किया है। तो वहीं दूसरी उन मशीनों की वजह से लोगों की नौकरी छूट रही हैं और कभी कभी उन ही मशीनों के अंदर हाथ आने से उसके हाथ काट भी जा रहा है। जो मानव जीवन के लिए एक अभिशाप है।

जहा एक तरफ बड़े बड़े उघोगों का निर्माण हो रहा है और बड़ी बड़ी फैक्ट्री लग रही है। तो वहीं दूसरी तरफ उन से निकलने वाली जहरीली गैस हमारे स्वच्छ वातावरण को दूषित कर रही हैं। यही नहीं अपितु यह हमारे ओजोन परत को भी काफी नुकसान पहुंचा रही हैं।

ऐसे न जाने कितने और क्षेत्र है जहाँ विज्ञान ने वरदान का कार्य तो किया साथ ही एक अभिशाप से कम भी नहीं रहा है। वैज्ञानिक दृष्टिकोण से यह हमारे जीवन को एक तरक्की की ओर ले जाने वाला एक महान कार्य है। तो दूसरी तरफ बुरा प्रभाव भी पड़ रहा है। इन आविष्कारों के प्रयोग से बचपन में ही बच्चों को बाहरी खेल न खेलकर फोन में गेम खेलने की आदत पड़ गई है। जिससे समय से पहले उन्हें चश्मा लग जाता है।

निष्कर्ष :

अंततः हमें हर वस्तु का प्रयोग ध्यान पूर्वक करना चाहिए। मनना की वैज्ञानिक आविष्कार जरूरी है। तो वही हमें भी उन अविष्कारों का प्रयोग उतना ही करना चाहिए। जितना आवश्यक हो। वैज्ञानिक आविष्कार हमारे जीवन के लिए काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है और यह जरूरी भी है। यदि कोई बाहरी आक्रमण होता है। तो उस समय वह हमारी सुरक्षा के काम आता है। तो वही उससे लाखों की तगत में लोगों को अपनी जान गवनी पड़ती है। उदाहरण के लिए हम प्रथम और दूसरा विश्व युद्ध के परिणामों को देख सकते हैं।

मैं ज्योति कुमारी, LifestyleChacha.com पर हिंदी ब्लॉग/ लेख लिखती हूँ। मैं दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक हूँ और मुझे लिखना बहुत पसंद है।

jyoti kumari best hindi blogger in delhi
-ज्योति कुमारी 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *