सर्दी से लड़ने के लिए खाएं ये चीजें – Eat these things to avoid cold

सर्दी से बचने के लिए क्या खाये और क्या नहीं जानिए

सर्दी जुखाम : हम जानते हैं कि मौसम बड़ी ही जल्दी से बदलने लगता है और हमारा शरीर इसमे सामंजस्य स्थापित नही कर पाता है. जिससे हमें सर्दी जुखाम जैसी आम बीमारी हो जाती है. जैसा कि हम लोग जानते हैं कि जो सर्दी जुखाम पहले आम बात हुआ करती थी आज वो कोरोना वायरस का एक लक्षण हैं. इसलिए हमें अपने शरीर के स्वास्थ्य को लेकर ध्यान रखने की आवश्यकता है. इसलिए हमें सर्दी जुखाम जैसी छोटी छोटी बीमारी से भी बच कर रहना चाहिए.

यह केवल कोरोना का ही लक्षण नही क्योंकि कोरोना तो इस साल आया है किन्तु कुछ बीमारिया तो काफी पहले से चली आ रही है जैसे – सर्दी जुखाम, निमोनिया, टी वी आदि बीमारी होती है और यदि यह खासी दो हप्ते से ज्यादा रहा तो यह अन्य कई बीमारियों को पैदा कर सकता है इसलिए जरूरी है कि हम हर तरह के बीमारी से अपना और आपने परिवार का ध्यान रखें और उन्हें बचाए.

यह भी देखते है हम की कुछ लोग बिना डॉक्टर की सलाह के सर्दी जुखाम होने पर टेबलेट लेके खा लेते है  जबकि उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए, यह भी देखने को मिलता है कि अक्सर लोगों को सर्दी जुकाम में गर्म खाने की सलाह दी जाती है जबकि ऐसा नहीं , जरूरी नहीं है कि गर्म चीजे खाने से यह नही होता जैसे गर्म पानी पीना , चाय अदरक वाली , गुड़ आदि खाने से नही होगा इसलिए ऐसे ही कुछ भी न करे और खाये, क्या खाना है ये बताते है-

सर्दी जुखाम में खाये ये सारी चीजें :

* दूध : भोजन के पाचन के लिए हम अक्सर दही का प्रयोग करते हैं क्योंकि दही के अच्छे बैक्टीरिया खाने को पचाने में सहायक होते हैं. सर्दी जुखाम यदि आपको बार बार होता है तो आप को यह सारी चीजें नही खानी चाहिये – चीज , दही , पनीर और फ़ास्ट फूड आदि नही खाना चाहिए. यह सब बलगम बनने का कार्य करते हैं.यदि आप को सिजलन सर्दी जुखाम हो तो आप यह सारी चीजें खा सकती है. आप इन सब चीजों को रात में ना खाएं जितना हो इन्हें अवॉइड करे , क्योंकि रात के समय यह खाने से बलगम अधिक जमता है और फिर आपका जुखाम काफी देर से ठीक होगा।

 

* केला : बोहोत से लोगों सर्दी जुखाम में केले खाना बंद कर देते है क्योंकि उन्हें लगता है यह खाने से बलगम होगा. जो हमारे शरीर के लिए हानिकारक होता है. हमारे सर्दी जुखाम को जल्दी ठीक भी नहीं करता. हम आपको बता दें ऐसे बिल्कुल नहीं है क्योंकि केला में अधिक मात्रा में पोटेशियम होता है और इसे खाने से हमारे शरीर में पानी की मात्रा बानी रहती है. एक केले में 100 कैलरी होती है और यह हमारे शरीर में ऊर्जा बनाए रखता है और इस मे मौजूद इलोक्ट्रोलाइट्स  और मिनरल्स शरीर में इम्युनिटी बढ़ने में सहायक होते है इसलिए हमे सर्दी जुखाम में इसे खाना बंद नहीं करना चाहिए।

 

* विटामिन- सी : विटामिन सी यह हमारे शरीर में इम्यून सिस्टम को बढ़ता है और हमारे शरीर को इंफैक्शन आदि से बचता है. विटामिन सी हमारे शरीर में हड्डियों, रक्त वाहिकाओं और मांस पेशियों को स्वस्थ रखता है. विटामिन सी शरीर में आयरन को भी सोखने में सहायक होता है. इसलिए कभी भी इस को खाना बंद ना करे,  सर्दी जुखाम में विटामिन सी को खाने रहे जैसे – संतरा, अमरूद, पपीता आदि फल खाय और हरी सब्जियों को भी खाते रहे।

 

*शकरगंद – सर्दियों में शकरगंद का सेवन जरूर करें क्यूंकि यह काफी गर्म होता है। जिसका सेवन करने से सर्दी में बचा जा सकता है। इसमें प्रोटीन विटामिन की भी मात्रा अथिक होती हैं।

 

अंडा- सर्दियों में अंडे का सेवन करें। क्योंकि इसने प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो सर्दियों में रोजाना खाना चाहिए। अंडा सर्दी जुखाम के लिए फायदेमंद होता है।

 

सब्जियों का सूप पियो– सर्दी में मिक्स सब्जियों का सूप पीने से काफी लाभ होता है। क्योंकि इसमें विटामिन कैलरी प्रोटीन आदि सभी भरापुर मात्रा में उपलब्ध होते हैं। इसलिए हफ्ते में दो तीन बार सूप जरूर पिएं। यह सर्दियों से काफी ज्यादा बचाता है।

 

सर्दी में ये चीजें ना खाए।

 

चावल का सेवन ना करें।

सर्दियों में चावल ठंडे होते हैं जिसका सेवन करना नुकसान होता है। इसलिए चावल से दूर रहें और खुद को सर्दी से बचाए। अगर फिर भी आप चावल के ज्यादा शौकीन है तो मसाले वाले चावल बना कर खा सकते हैं।

आइसक्रीम खाने से बचें।

सर्दियों में खास तौर पर आइसक्रीम से दूर रहें और खुदको सर्दी से बचाए। अकसर लोग सर्दी में भी आइसक्रीम का सेवन कर लेते हैं। जो सर्दियों में काफी ज्यादा नुकसानदायक साबित होती है।

 

मीठा खाने से बचें।

सर्दियों में आपको ज्यादा मीठा खाने से बचना चाहिए क्योंकि अधिक मीठा खाने से बहुत सी बीमारियां हो जाती है। इसलिए कम मीठा खाने का सेवन करें।

 

नोट : यदि आपको ज्यादा सर्दी जुखाम है तो ऐसे में आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। क्यूंकि हमारा लेख आपको मामूली सर्दी जुखाम से बचाव के लिए मददगार है। तो दोस्तो कॉमेंट करके जरूर बताएं यह लेख आपको कैसा लगा।

 

ज्योति कुमारी…

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *