मन में सुसाइड के विचारो को आने से कैसे रोके? | How to stop suicide thoughts in Hindi

How to stop suicide thoughts in Hindi : आज हम इस आर्टिकल में पढ़ेंगे… मन में चल रहे सुसाइड के ख्यालों से किस तरह खुद को बचा सकते हैं। जैसा कि आप सभी जानते हैं। हमारे भारत देश में दिन प्रतिदिन लोग बिना सोचे समझे सुसाइड कर लेते हैं। खुद की परेशानी से छुटकारा पाने के लिए उन्हें कोई भी विकल्प नहीं दिखता। ज्यादातर हमारी भारत देश की युवा पीढ़ी सुसाइड जैसा ख्याल मन में बना लेती हैं। सुसाइड करना किसी भी प्रॉब्लम का हल नहीं है। अगर हम सबके जीवन में कोई परेशानी है तो उसका हल भी जरूर है।

चलिए दोस्तो जानते हैं आखिर लोग सुसाइड क्यों करते हैं? और इससे कैसे बचा जाये? कैसे ऐसे नेगेटिव विचारों को मन में आने से रोका जाये?

सुसाइड करने के कारण इस प्रकार है।

अधिकतर लोग सुसाइड इसलिए करते हैं। क्यूंकि ऐसे इंसान को खुद पर भरोसा नहीं होता है। उन्हे दुनिया से भी नफरत हो जाती है। और उन्हे यह महसूस होता है कि दुनिया में सब उनसे नफरत करते हैं। वे क्रोध व निराशा, शर्मिंदगी की वजह से भी खुदकुशी करने का भी फैसला कर लेते हैं। और कुछ लोगो की पसंद की शादी नहीं होती है। तो भी वह लोग अपना जीवन समर्पित कर लेते हैं। क्यों लोग इतना वाहियाद कदम उठा लेते हैं? इतनी खूबसूरत जिंदगी हम सभी को प्राप्त हुई है। क्यों लोग अपने माता-पिता के बारे में नहीं सोचते हैं?

How to stop suicide thoughts in Hindi

खुदकुशी करने के लक्षण इस प्रकार होते हैं।

 

*खुद पर नियंत्रण न रहना

* नशीली दवाओं का अधिक सेवन करना।

* आर्थिक तनाव ज्यादा होना।

* खुद को सबसे अलग समझना।

*मन व विचार बार-बार बदलना

* नकारात्मक विचारों का प्रभाव ज्यादा होना।

* जिन्दगी में उतार चढ़ाव।

* भावनात्मक परेशानी होना।

* किसी भी बात का ज्यादा बढ़ना।

* ज्यादा सोचना।

 

सुसाइड आने के विचारो से इस प्रकार निजात पाएं …

 

दोस्तो से मिलना।

अपने किसी खास दोस्त से मिलकर अपनी परेशानी बताए। उससे अपनी बातों को शेयर करे और  उससे अपनी परेशानियों का समाधान मांगे। और वैसे भी दोस्त के साथ समय बिताने से मन हल्का हो जाता है।

अगर आपके दोस्त नहीं है तो जो आपको पसंद हो वह करे। इससे आपके मन को शांति मिलेगी। और ऐसे बेकार खयालों से छुटकारा मिलेगा।

 

योगा करे।

रोज सुबह-सुबह उठकर एक्सरसाइज करें। अनेक प्रकार के योग है जिनसे हम अपने मन को आराम दे सकते है और अपने शरीर को सभी प्रकार की बीमारियों से दूर कर सकते है। आजकल फ्री में ही सुबह के समय आपको पार्को में बहुत सारे योग कैंप मिल जायेगे जहाँ जाकर आप योगा क्लास ज्वाइन कर सकते है। या फिर अपना पर्सनल योगा टीचर कर सकते है। अगर हो सके तो सुबह की ताजी-ताज़ी घास नंगे पैर चले। इससे आपका दिमाग फ्रेश रहेगा। और आपके मन को भी भरपूर  सुकून सुकून मिलेगा।

 

परिवार के साथ ज्यादा टाइम व्यतीत करें।

अपने परिवार के साथ जितना हो सके उतना समय गुजरे गुजारने की कोशिश करें। हमें लगता है हमारे परिवार वाले हमें नहीं समझते और हम उनसे दूर दूर रहते है लेकिन दोस्तों इस दुनिया में हमारा अपना बस हमारा परिवार होता है जो हमारी सारी कमियों के बाबजूद हमें अपनाता है।

How to stop suicide thoughts in Hindi

सब आपका फायदा उठाने की सोचेंगे लेकिन आपके अपने ही आपके भले के बारे में सोचेंगे। आपको सफल इंसान बनाने की कोशिश करेंगे। इसलिए फैमिली से बढ़कर कुछ नहीं है। अपनी फैमिली के साथ समय बिताये अपनी सारी परेशानियाँ उनके साथ शेयर करें। इससे आपका दिमाग खुदकुशी की ओर न जाकर अन्य कामों में लगेगा। जिससे कि आप खुद को अच्छा महसूस होगा।

 

अपने अच्छे कार्य को याद करें।

अपने अपनी जिंदगी में अच्छे काम  जरूर किये होंगे। अगर आपके मन में खुदकुशी करने के ख्याल आए तो अपने अच्छे कर्मो को याद जरूर करें। जिससे कि आपके मन में ऐसे नकारात्मक विचारों से पूरी तरह निजात मिल सके।

 

कुछ नया विकल्प चुनें।

अगर आप अपनी जिंदगी में किसी भी बात को लेकर परेशानी है तो उस बात को खतम करने के लिए उस विकल्प को चुने। और कोई नया विकल्प अपनाए क्यूंकि जिंदगी में अगर समस्या है तो उससे निजात पाने का भी हल जरूर है। जिससे कि आपको खुदकुशी करने के विचारो से छुटकारा जरूर मिलेगा।

 

मनोचिकित्सक की सलाह लें।

अगर आपको  खुदखुशी जैसे नकारात्मक विचारो पर काबू नहीं पा रहे हैं तो आपको अपने आप को मनोचिकित्सक को जरूर दिखाए। जिससे कि आपकी इस बुरी बीमारी से आपका पीछा छूटेगा। आपको वह मनोचिकित्सक सलाह देगा। या फिर आप किसी सरकारी हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करें।

नोट  – यह आर्टिकल आप सभी को पढ़ कर केसा महसूस हुआ यह मुझे आप कमेंट बॉक्स में कॉमेंट करके बताए।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *