पीलिया रोग के लक्षण और घरेलू उपचार – Jaundice disease symptoms and home remedies in Hindi

Jaundice disease symptoms and home remedies in Hindi : आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताने वाले हैं कि कैसे आप पीलिया रोग के लक्षणों के बारे में जान सकते है और इसके क्या घरेलू उपाय है? जिससे आप ठीक हो सकते हैं। इससे जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी भी जो पीलिया रोग से ग्रसित किसी भी व्यक्ति के लिए एकदम कारगर साबित होती है। यह सारे उपाय अक्सर लोग अपने घर मे प्रयोग में लाते हैं।

 

पीलिया रोग के लक्षण :

यह एक ऐसा रोग है। जो देखने में सामान्य-सा लगता है लेकिन यह एक गंभीर रोग है और इसका इलाज समय पर होना आवश्यक होता हैं। नही तो यह और बढ़ जाता हैं। इस पीलिया रोग को इंग्लिश में जॉन्डिस कहते हैं। यह बीमारी हमें तब होती हैं। जब शरीर में बिलबीन की मात्रा बढ़ जाती हैं और आँख, नाखून और त्वचा आदि सभी सफेद भाग जो शरीर में होते है। वह पीला दिखने लगता है।

इस रोग में सबसे ज्यादा असर लिवर पर पड़ता हैं। जिसमे वह कमजोर होकर काम करना बंद कर देता हैं। जब यह बीमारी होती हैं तो लोग अक्सर घबराने लगते हैं। इस बीमारी का इलाज फिर वो एलोपैथिक के साथ साथ और भी कई उपाय अपनाते हैं। उसी में से एक हैं, घरेलू उपाय। आइए जानते हैं। इसके घरेलू उपाय……

 

पीलिया रोग के घरेलू उपाय :

पीलिया रोग के घरेलू उपाय वैसे तो बहुत सारे है। जिनमें से कुछ हम आपको बताने वाले हैं।

 

#फिटकरी से पीलिया का घरेलू उपचार :

फिटकरी एक ऐसा नमक है। जो हर बीमारी में ज्यादा तर उपयोग किया जाता है। यह पीलिया के लिए भी काफी लाभदायक है। बस आप इसे तवे पर सेक ले जब तक ये फूल न जाए, फिर इसे पीस कर रोज सुबह एक गिलास पानी में आधा चम्मच फिटकरी मिला दे। एक दो दिन में आराम मिलने लगेगा।

 

#तुलसी से पीलिया का घरेलू उपचार :

पीलिया रोग के लक्षण और घरेलू उपचार
तुलसी भी एक ऐसा ही पौधा है। जिसे हम हर बीमारी के उपचार के लिए जो कड़ा बनाते हैं। उसमे यह काफ़ी लाभदायक सिद्ध होता है और खाने में भी। यह पीलिया के लिए भी काफी कारगर साबित हुआ है। बस 5 ग्राम तुलसी के पत्ते और 5 ग्राम पुनर्नवा की जड़े ले और इसे पीस कर सुबह शाम इसका सेवन करें। इसका सेवन करने से लाभ मिलता हैं।

 

#मूली का सेवन पीलिया का घरेलू उपचार :

पीलिया रोग के लक्षण और घरेलू उपचार
मूली यह भी घरेलू उपाय में पाया जाने वाला एक खाद्य पदार्थ है। जिसे आप इसके पत्तों सहित पीस ले और इसका रस निकल ले। फिर इसमें 10 मि ली नींबू मिला दे और चीनी की मात्रा इच्छानुसार रखें। इस सब को मिलकर रो सुबह खाली पेट एक कप की मात्रा अनुसार एक कप सुबह और रात को सोने से पहले पी लें। देखिए एक सप्ताह में लाभ मिलना शुरू हो जाएगा।

इसका एक उपाय यह भी है कि आप 5 तोला मूली के पत्तों का रस निचोड़कर 1 तोला मिश्रा मिला ले। रोज प्रत्यकाल वासी मुह सेवन करने से भी काफी लाभ मिलता है।

 

#पीलिया में प्याज का घरेलू उपचार :

पीलिया रोग के लक्षण और घरेलू उपचार
प्याज जिसका उपयोग हम अक्सर लू से बचने के लिए करते हैं। यह पीलिया के रोग में भी काफी कारगर साबित हुआ है। बस प्याज को लेकर उसके छोटे छोटे टुकड़े कर लें। फिर उसे एक मिट्टी या शीशे के बर्तन में रखें और इसमें इतना नींबू डाल दें कि वह इसमे अच्छे से भीग जाए। फिर इसमें कालीमिर्च और सेंघा नमक भी सही मात्रा में डाल दें। फिर रोज इसका सेवन करें। इसके सेवन से भी बहुत लाभ मिलता हैं।

 

#पपीता से भी पीलिया का घरेलू उपचार :

पीलिया रोग के लक्षण और घरेलू उपचार
पपीता यह भी एक ऐसा लाभकारी फल है। जो ज्यादा तर बीमारी में लोग उपयोग करते हैं। वैसे ही पीलिया के रोग में कच्चा पक्का पपीता काफी लाभकारी होता है। कच्चे पपीते को बिना मसाले के सब्जी बनाकर खाए। यह काफी फायदेमंद होता है। साथ ही पक्का पपीता भी खाए। वह भी पीलिया को दूर रखेगा।

 

#गिलोय पीलिया का घरेलू उपाय :

गिलोय जो काफी सारे बीमारी में कड़ा बना कर पीने के काम आता है। ठीक वैसे ही यह पीलिया रोग में भी फायदे मंद होता है। बस गिलोय के रस को शहद में मिलकर सुबह सुबह सेवन करें। इसका प्रयोग इस बीमारी को दूर रखने में लाभकारी है।

 

#नारियल पानी से भी पीलिया का घरेलू उपचार :

पीलिया रोग के लक्षण और घरेलू उपचार
पीलिया के रोग से ग्रसित व्यक्ति के लिए नारियल पानी को पीना काफी फायदेमंद होता है। यह हमारे पाचन तंत्र को ठीक रखता है और लिवर को भी स्वस्थ रखता है। इसका प्रयोग डेंगू आदि बीमारियों में भी होता है।

 

#दही से पीलिया का घरेलू उपाय :

पीलिया रोग के लक्षण और घरेलू उपचार
पीलिया रोग में दही का सेवन करने से बैक्टीरिया वाले संक्रमण को दही के सेवन से रोका जा सकता है और दही पीलिया में काफी फायदेमंद होता है।

छाछ और मठ्ठा का भी रोजाना 1 गिलास सेंधा नमक मिलाकर सेवन करने से भी पीलिया को जल्दी ठीक करने में भी सहायक होता है।

 

#गन्ने से भी पीलिया का घरेलू उपाय :

पीलिया रोग के लक्षण और घरेलू उपचार
गन्ने का रस जो कि पीलिया में काफी लाभकारी होता है। इसका दिन में तीन चार बार बस एक सप्ताह तक आप सेवन करें। फिर देखिएगा। पीलिया में कैसे आराम पड़ता है।

यदि पीलिया से ग्रसित व्यक्ति सत्तू खाकर गन्ने का रस पिए। तो यह भी काफी फायदेमंद होता है और एक सप्ताह में पीलिया ठीक हो जाता है।

 

आशा करती हूं कि आपको हमारे बताए गए पीलिया रोग के घरेलू उपाय से आपको अवश्य लाभ होगा और आप इसका प्रयोग अवश्य करेंगे। आपको यह आर्टिकल कैसे लगा। आप हमें हमारे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं।

 

  • – ज्योति कुमारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *