पथरी के लक्षण और घरेलू उपचार – Stones symptoms and home remedies in hindi

Pathri Ka Gharelu Upchar: पथरी होना लोगों में आम समस्या हो चुकी है। किडनी स्टोन होने पर लोगों को बहुत दर्द होता है। और ऑपरेशन तक हो जाता है। लेकिन हम किडनी के स्टोन को ज्यादा बड़ा न होने से भी रोक सकते हैं। यह गलत खान-पान की वजह से पेट में जम कर पथरी का रूप ले लेती है। लेकिन हम आपके लिए कुछ घरेलू उपाय ले कर आये है। जिसे आजमा कर आप अपनी पथरी को बढ़ने से रोक सकते हो।

 

चलिए दोस्तो, जानते हैं, ऐसे कौन से घरेलू नुस्खे है। जो किडनी स्टोन को प्रभावित होने से रोक सकते है।

  • पथरी के लक्षण कुछ इस प्रकार होते हैं।
  • मूत्र में खून का आना व बार-बार पेशाब आना।
  • बुखार, खून की उल्टी आना।
  • पेट दर्द व अधिक पसीना आना।
  • पानी कम मात्रा में पीना।

पथरी का घरेलू उपचार 

 

पानी का सेवन अधिक करें।

पथरी के रोकथाम के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद पानी का सेवन है। रोज 12 गिलास पानी जरूर पिएं। पूरे दिन में थोड़े-थोड़े अंतराल पर पानी पीते रहे। सुबह-सुबह खाली पेट पानी का सेवन करने से किडनी का स्टोन बढ़ने से रुक जाता है। इसलिए सुबह के समय गुनगुना पानी जरूर पिएं।

 

तरबूज खाएं

पथरी की समस्या में तरबूज खाना बहुत ही फायदेमंद है। क्यूंकि तरबूज में पोटैशियम पाया जाता है जो किडनी के लिए बहुत अच्छा है। जैसा कि आप सभी जानते है तरबूज खाने से पानी की कमी दूर होती है और इसमें मौजूद पोटैशियम आपके यूरिन में से एसिड की मात्रा को कम करने में मदद करता है।

 

अनार का सेवन करें।

पथरी को निकालने में अनार बहुत ही ज्यादा फायदेमंद है। अनार में एस्ट्रीजेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो पथरी को निकालने में सहायक होता है। आप अनार का जूस भी पी सकते हैं। इसका सेवन रोज सुबह के समय नाश्ते में करे।

 

नींबू पानी का सेवन करे।

नींबू का रस बहुत ही ज्यादा फायदेमंद नुस्खा है। जो पथरी के स्टोन को गलाकर निकालने में सहायक होता है। आप नींबू के रस में जैतून का तेल बराबर मात्रा में डाले और उसे अच्छे से मिक्स करके उस रस को सुबह के समय कुछ दिन पिए जिससे पथरी निकलने में बहुत ही कम समय लगेगा।

 

सेब के सिरके का सेवन करें।

सेब का सिरका पथरी के स्टोन को बाहर निकालने में काफी ज्यादा लाभदायक होता है। क्योंकि सेब के सिरके में सिट्रिक एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो पथरी के स्टोन गलने में मददगार होता है। इसे छोटा चम्मच गरम पानी में इस सिरके को मिलाकर रोज सुबह के समय पिए।

 

तुलसी का सेवन करें।

तुलसी प्राचीन समय से ही एक बहुत अच्छी औषधि मानी गयी है। तुलसी पथरी की समस्या में भी बहुत उपयोगी है। तुलसी की कुछ पत्तियां ले उसे गर्म पानी में डाल कर इस पानी को सुबह-शाम रोज पिएं इससे आपकी पथरी की परेशानी दूर होगी और पथरी के कीटाणु नहीं पनपेंगे।

 

पथरी के परहेज।

  • तला, भुना ना खाए।
  • अधिक मिर्च मसाले वाली चीजों से बचे।
  • जंक फूड से बचे।
  • चावल, टमाटर, बैगन खाने से बचे।
  • कोल्ड ड्रिंक से बचे।
  • अधिक मात्रा में विटामिन, प्रोटीन वाली चीजे ना खाए।

Thank you…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *