ऑनलाइन शिक्षा के फायदे व नुकसान – Advantages and disadvantages of online education in Hindi

Advantages and disadvantages of online education in Hindi : नमस्कार दोस्तो जैसा कि आप सभी जानते हैं कि करोना महामारी के कारण लोगों की ज़िंदगी बहुत ज्यादा प्रभावित हुई है। हर चीज अधूरी हो चुकी है। साथ ही यह नहीं पता चल पा रहा है कि कब तक यह महामारी जाएगी। ऐसे में सवाल यह उठता है कि बच्चो के भविष्य का क्या होगा? वे स्कूल व कॉलेज कब से जा पाएंगे ? बच्चे घर पर बिलकुल पढ़ाई नहीं कर पा रहे है।

इसी बीच सरकार भी यह तय नहीं कर पा रही कि स्कूल व कॉलेज खोलने चाहिए या नहीं। क्योंकि हर साल इसी दुविधा में हैं कि कब कोरोना खतम हो? कब हम सुरक्षित हो?

इसी दौरान सरकार ने बच्चो के भविष्य को बर्बाद होने से बचाने के लिए ऑनलाइन शिक्षा की सुविधा मुहैया कराई है। लेकिन हर माता पिता के लिए समझ पाना मुश्किल हो रहा है कि ऑनलाइन शिक्षा हमारे बच्चों के लिए सही भी है या नहीं?

इस ब्लॉग पोस्ट में आप जानेंगे ऑनलाइन शिक्षा के फायदे व नुकसान।

 

कोरोना में ऑनलाइन शिक्षा क्यों जरूरी है?

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि ऑनलाइन शिक्षा हमारे सभी स्टूडेंट्स के लिए इतनी जरूरी हो गई है। कि वह चाह कर भी ऑफलाइन शिक्षा ग्रहण नहीं कर सकते। क्योंकि कॉरोना के बादल देश हो या विदेश हर जगह इसका प्रकोप छाया हुआ है। हर किसी को बहुत ही दिक्कत व परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आज भी कारोना का प्रकोप ख़तम होने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में हमारे देश के स्टूडेंट्स के भविष्य को लेकर भी ऑनलाइन शिक्षा बहुत एहम हो गई है। इसलिए अपने बच्चो को ऑनलाइन शिक्षा के प्रति जागरूक करें। ताकि उनके भविष्य पर आंच ना आ सके। ताकि उनको अपने भविष्य के साथ किसी प्रकार का समझौता न करना पड़े।

 

ऑनलाइन शिक्षा के नुकसान इस प्रकार है।

Advantages and disadvantages of online education in Hindi

 

पढ़ाई का माहौल ना बन पाना।

ऑनलाइन एजुकेशन के चलते स्टूडेंट्स व टीचर्स के बीच माहौल व सामंजस्य स्थापित होना मुश्किल हो गया है। इस दौरान टीचर्स व स्टूडेंट्स के बीच आपस में कनेक्शन नहीं बैठ पा रहा है। जिस दौरान अच्छे की सीखने की इच्छा खतम हो रही है। बच्चे की सीखने की कला में भी कमी आ रही है। वह अच्छे से सीख नहीं पा रहे हैं। इसी दौरान ऑनलाइन शिक्षा स्टूडेंट्स व टीचर्स के बीच नुकसानदायक साबित हो रही है।

 

इंटरनेट का गलत इस्तेमाल करना।

ऑनलाइन शिक्षा होने की वजह से सभी माता पिता ने बच्चो को लैपटॉप व मोबाइल दे देते हैं। वह पढ़ाई करने के बहाने से मोबाइल में तरह तरह की गेम व अन्य गलत चीजे भी देखने लगते हैं। ऐसे में  माता-पिता गोर नहीं कर पाते है। इसी दौरान उनका पढ़ाई के के प्रति अच्छा विकास होना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। यह भी ऑनलाइन शिक्षा का सबसे बड़ा नुकसान है।

 

छात्रों को समझ ना आने की समस्या।

ऑनलाइन शिक्षा होने के कारण बच्चो को पढ़ाई समझ ना आने की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। क्यूंकि जो मज़ा ऑफलाइन शिक्षा ग्रहण करने में आता है। वह मज़ा ऑनलाइन में नहीं आता है। क्योंकि ऑफलाइन शिक्षा  से स्टूडेंट्स व टीचर्स आमने सामने होते हैं। टीचर्स के पढ़ाने का तरीका अच्छे से स्टूडेंट्स समझ पाते हैं। वहीं दूसरी ओर अधिकतर स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन शिक्षा समझ पाना मुश्किल हो गया है।

 

इंटरनेट का होना जरूरी है।

ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण करने के लिए इंटरनेट का होना जरूरी है। वहीं दूसरी तरफ इंटरनेट स्लो होने के कारण क्लास सही से नहीं हो पाती है। ऐसे में कुछ भी समझ पाना मुश्किल हो जाता है। क्योंकि विडियो ऑडियो का रुकना क्लास लेने में स्टूडेंट्स को दिक्कत हो जाती है। साथ ही जो ग्रामीण इलाके में रहते है। उनके लिए ऑनलाइन शिक्षा लेना काफी मुश्किल हो गया है।

 

आंखो व स्वस्थ पर बुरा प्रभाव पड़ना।

ऑनलाइन शिक्षा से टीचर्स व स्टूडेंट्स की हेल्थ व आंखो पर काफी ज्यादा प्रभाव पड़ रहा है। क्यूंकि 1 से 6 घंटे की क्लास लेने से स्टूडेंट्स की आंखो पर बुरा प्रभाव पड़ता है और उनकी हेल्थ भी खराब होती है। ऐसे में घंटों फोन व लैपटॉप कि स्क्रीन की रोशनी से ना सिर्फ आंखे खराब होती है बल्कि हमारे चेहरे पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। स्किन डल व चमक ख़तम हो जाती है।

 

छात्रों में शिक्षा के प्रति उत्साह में कमी।

आज ऑनलाइन शिक्षा का होना छात्रों में अपने सब्जेक्ट के प्रति उत्साह में कमी। और ऑनलाइन शिक्षा के जरिए शिक्षक होशियार व वीक स्टूडेंट्स को पहचानने में भी मुश्किल हो गई है। क्युकी अगर कोई वीक है तो उस स्टूडेंट्स पर गोर नहीं कर पा रहे हैं। इसी दौरान जो कॉलेज व स्कूल में टीचर टेस्ट लिया करते थे। इससे बच्चो में पढ़ाई के प्रति उत्साह देखने को मिलता था। जो ऑनलाइन में देख पाना मुश्किल हो गया है।

 

ऑनलाइन शिक्षा के फायदे कुछ इस प्रकार है।

Advantages and disadvantages of online education in Hindi

 

समय की बचत होना।

ऑनलाइन शिक्षा से आज के दौर में समय की बचत से सभी को बहुत फायदा हुआ है। चाहे टीचर हो या स्टूडेंट्स हो इनकी समय की बचत हो रही है। क्योंकि ऑनलाइन शिक्षा टीचर्स कभी भी ज़ूम एप गूगल एप इत्यादि से ऑनलाइन आ कर कभी भी समय के मुताबिक दिन में कई बार शिक्षा दे सकते हैं। इससे ना तो कहीं आने की जरूरत है ना ही कहीं जाने की जरूरत है। अपने घर से ही ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण कर सकते हैं। इस तरह ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण करके समय की बचत की जा रही है।

 

टेक्नोलॉजी के प्रति जागरूक होना।

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि वैसे तो हर छोटी बड़ी चीज ऑनलाइन हो गई है। इसी बीच अब शिक्षा भी कोरोना के दौरान ऑनलाइन हो गई है। ऐसे में टीचर्स हो या स्टूडेंट्स सभी अलग-अलग तरह की टेक्नोलॉजी के प्रति जागरूक हो रहे हैं। टेक्नोलॉजी का उपयोग करना सीख रहे हैं। टीचर्स स्टूडेंट्स को वीडियो ऑडियो अलग-अलग तरह के एप के माध्यम से खुद को और स्टूडेंट्स को ऐसी टेक्नोलॉजी के प्रति रूबरू कर रहे हैं। ऐसे में देश भी टेक्निकल रूप से आगे बढ़ेगा।

 

निष्कर्ष

निष्कर्ष के तौर पर यह कहा जा सकता है कि इस महामारी के दौरान टीचर्स व स्टूडेंट्स के बीच ऑनलाइन शिक्षा के प्रति सामंजस्य स्थापित ना करके दोनों को जोड़ कर रखा है। साथ ही टेक्नोलॅजी के माध्यम से आजा हमारे देश में महामारी के चलते शिक्षा का नुक्सान ना करके बच्चो तक देक्नॉलजी के जरिए शिक्षा पहुंचाई जा रही है। दोस्तो उम्मीद है कि इस आर्टिकल के माध्यम से आप सभी को ऑनलाइन शिक्षा के फायदे व नुकसान के बारे में पता चला है। मुझे कॉमेंट में बताए कि आपको यह आर्टिकल कैसा लगा और इस आर्टिकल को शेयर करना न भूलें।

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *