बलात्कार को कैसे रोका जा सकता है? | Stop Rape !

How to stop rape in hindi: नमस्कार दोस्तों आज मुझे यह आर्टिकल लिखते हुए बहुत दुख हो रहा है। हम सभी लड़कियां अब भी कहीं भी मेहफूज नहीं है। कहने को तो हमारा भारत देश बोलता है कि सबसे आगे महिलाएं पर सिर्फ यह अब कहने की ही बात रह गई है। हमारे देश का मान सम्मान ही नारी डॉक्टर नारी, पुलिस नारी, इंजीनियर नारी हर एक कार्य में सबसे आगे हैं नारी इतना आगे हमारा देश पहुंचा उसमे भी नारी ने ही अपना योगदान दिया।

फिर भी नहीं है मेहफूज नारी। हर पीड़ा हर दर्द वो सहती है। लेकिन फिर भी हमारा देश उसे मान-सम्मान देने में है सबसे पीछे। क्यों किया जाता है? उसके साथ इतना बुरा सुलूक क्यों है हमारा कानून इतना कमजोर? एक स्त्री से जानवर से भी बतर सुलूक किया जाता है। क्यों नहीं मिला आजतक नारी को न्याय? दोस्तो हम सभी को मिलकर ही कुछ करना होगा कुछ ऐसा कि हमारा समाज सभी स्त्री की रक्षा करे। क्यूंकि हमारा देश का मान सम्मान ही नारी है। अगर नारी को कुछ होता है तो इस बात पर हमारी कुदरत भी रोती है। 
stop rape

चौंकाने वाली बात तो यह है कि कभी दामनी शिकार होती। तो कभी अशिफा तो कभी डॉक्टर प्रियंका अब मनीषा और ना जाने कितनी महिलाओ को इन दरिंदो ने अपना शिकार बनाया है। आज भी नहीं रुक रहा है यह अत्याचार दिन प्रतिदिन हैवानियत इन दरिंदो की बढ़ती ही जा रही है।

ऐसे में लोग मोमबत्ती जला कर, सोशल मीडिया पर अपना दुख जताते हैं लेकिन फिर भी इन सबका असर कहा पड़ता है उन खुले हुए दरिंदो पर आज भी नहीं है उनके मन में कोई डर एक लड़की का बदन नोचने में उनको नहीं होता है कोई दुख किसी लड़की को जला दिया तो किसी लड़की को बाधकर उसका बदन नोचा गया। तो कभी उस लड़की की जुबान ही काट दी। क्यों नहीं होता उन्हे दुख? क्यों नहीं कापते उस हैवान के हाथ पैर ?क्या यही बची है इंसानियत इस समय ? इस बढ़ते हुए बलात्कारों को अब हमको ही रोकना है। 

 

 

कड़े से कड़े कानून बनने चाहिए।

बलात्कार को रोकने का तरीका यह है कि हमारे देश में कानून को इतना सख्त करना चाहिए कि अगर कोई हैवान इतना गीर सकता है कि उसको एक लड़की का दुख नहीं दिखाई देता तो हमारे कानून को भी उस पर तरस नहीं आना चाहिए, उसको जल्द से जल्द कड़ी से कड़ी सजा देनी चाहिए।

 

उस दरिंदे को तड़पा-तड़पा कर पब्लिक के सामने मारो। और ऐसी सजा दो की कोई दूसरा हैवानअपनी हैवानियत को ही खत्म कर सके। ऐसा करने से पहले उसकी रूह भी काँपे। ऐसा करना तो दूर सोचने में भी उसको डर लगे ऐसा होना चाहिए कानून तभी मिल सकेगा हमारे देश की नारियों को न्याय। तभी थम पाएगा यह घोर अन्याय। 

 

संस्कार अच्छे मिलने चाहिए।

 

सबसे पहले तो बचपन से सभी लडको को लड़कियों की इज्ज़त करना सिखानी चाहिए। क्यूंकि जब तक हम सब खुद से शुरुआत नहीं करेंगे तो यह अपराध नहीं थम सकता। इसलिए सभी लडको को एजुकेशन भी अच्छी मिलनी चाहिए। परिवार वालो को लडको पर कड़ी नजर रखनी चाहिए। उसे बचपन से नशे जैसी चीजों से दूर रहने को बोले। उसे अपने देश के प्रति वफादार बनाए। ताकि वह कभी ऐसी रेप जैसी घिनौनी हरकत से दूर रहे और उसके मन में हर नारी के लिए मान सम्मान पैदा करे। क्यूंकि जब तक इन छोटी-छोटी बातों पर ध्यान केंद्रित नहीं किया तो हमारा देश कभी आगे नहीं बढ़ सकता है। इसलिए संस्कार बहुत जरूरी है। अगर संस्कार अच्छे होंगे तो कर्म भी अच्छे ही होंगे।

नोट – दोस्तो मेरा आप सभी से अनुरोध है कि आप सभी हर एक स्त्री की रक्षा करने के लिए आगे बढ़ेंगे क्यूंकि हर घर महिलाओ से ही चलता है। अगर तुम दूसरो की मां बहनों की रक्षा करते हो तो आपकी भी मां बहनों पर कभी आंच नहीं आ सकती। जस्टिस फॉर वूमेन जय हिन्द जय भारत।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *